एलएसी पर टी-90, टी-72 टैंक तैनात

 

नयी दिल्ली/चुमार-डेमचोक क्षेत्र : सेना ने पूर्वी लद्दाख में करीब 5 महीने से जारी तनाव के बीच सर्दी के लंबे मौसम में भी मोर्चा संभालने की तैयारियां पुख्ता करते हुए वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास आर्मर्ड रेजीमेंट के टी-90 और टी-72 टैंकों की तैनाती की है। इसके अलावा बीएमपी-2 कॉम्बैट ह्वीकल भी भेजे गये हैं। यह युद्धक टैंक 14.5 हजार फुट की ऊंचाई पर चुमार-डेमचोक क्षेत्र में तैनात किये गये हैं।
माइनस 40 डिग्री तापमान में भी सक्रिय

इन टैंकों की खासियत है कि ये शून्य से 40 डिग्री नीचे तापमान में भी संचालित हो सकते हैं। चौदहवीं कोर के मेजर जनरल अरविंद कपूर ने एक भेंट में उक्त जानकारी देते हुए बताया कि पूर्वी  लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) वाले इलाके में सर्दियों में यहां रात के वक्त तापमान शून्य से 35 डिग्री नीचे तक पहुंच जाता है। इसके अलावा तेज बर्फीली हवाएं भी चलती हैं। फायर एंड फ्यूरी कोर भारतीय सेना की अकेली या दुनिया की अकेली टुकड़ी है जो ऐसे हालात में मोर्चा संभालने के लिए तैनात की गयी है।

आर्मर्ड रेजीमेंट पूरी तरह सक्षम
भारत की आर्मर्ड रेजीमेंट के पास कम समय में एलएसी के पास पहुंचने की क्षमता है और यह रेजीमेंट ऐसा करके दिखा चुकी है। तब 29-30 अगस्त को चीन ने अपने टैंक तैयार किये थे और भारत की कुछ चौकियों पर कब्जा करने की कोशिश की थी लेकिन भारतीय जवानों ने न केवल चीनी सेना की घुसपैठ नाकाम कर दी बल्कि पैगॉन्ग के दक्षिणी किनारे पर अहम चोटियों पर भी कब्जा कर लिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

हैदराबाद ने राजस्थान को 8 विकेट से हराया, मनीष-शंकर की आकर्षक बल्‍लेबाजी, टॉप-5 में पहुंची हैदराबाद

दुबई : मनीष पांडे की आकर्षक पारी और विजय शंकर के साथ उनकी अटूट शतकीय साझेदारी से सनराइजर्स हैदराबाद ने गुरुवार को यहां राजस्थान रॉयल्स आगे पढ़ें »

भारतीय महिला दल टी20 चैलेंज के लिये संयुक्त अरब अमीरात पहुंचा

दुबई : भारत की 30 शीर्ष महिला क्रिकेटर टी20 चैलेंज में भाग लेने के लिये गुरूवार को यहां पहुंची जो ‘मिनी महिला आईपीएल’ के नाम आगे पढ़ें »

ऊपर