उपराष्ट्रपति ने आतंकवाद के खात्मे के लिये विश्व समुदाय से एकजुट होने की अपील की

बेंगलुरू : श्रीलंका में हुये आतंकी हमलों पर क्षोभ जाहिर करते हुये उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने सोमवार को विश्व समुदाय से आतंकवाद के खात्मे के लिये एकजुट होकर कदम उठाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि इस दुख की घड़ी में वहां के लोगों एवं सरकार के साथ भारत मजबूती से खड़ा है।
अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों से चर्चा संपन्न करने की मांग
नायडू ने दुनिया के विभिन्न हिस्सों में आतंकवादी हमलों पर क्षोभ जाहिर करते हुए भारत द्वारा पेश ‘कंप्रहेंसिव कन्वेंशन ऑन इंटरनेशनल टेररिज्म’ पर संयुक्त राष्ट्र जैसी अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों से चर्चा संपन्न करने की मांग की। मालूम हो कि भारत ने हर प्रकार के अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद को अपराध घोषित करने तथा आतंकवादियों, उनके वित्तपोषकों और समर्थकों को हथियार, धन एवं सुरक्षित ठिकानों पर रोक लगाने की मांग की है।
जड़ से इसका खत्मा करना होगा
उपराष्ट्रपति ने बेंगलोर विश्वविद्यालय के 54वें वार्षिक दीक्षांत समारोह के दौरान अपने संबोधन में कहा कि ‘‘महज निंदा और मुआवजे से कोई लाभ नहीं होगा। हमें इनके मूल में जाकर जड़ से इसका खत्मा करना होगा।’’
किफायती उच्च शिक्षा की उपलब्धता चुनौती
नायडू ने सभी को किफायती उच्च शिक्षा की उपलब्धता सुनिश्चित करने को चुनौती बताते हुए कहा कि शिक्षा के व्यावसायीकरण तथा ज्ञान के बिकाऊ माल की तरह बन जाने से उपलब्धता सीमित हो गयी है। उन्होंने कहा कि जहां तक उच्च शिक्षा का सवाल है, सामाजिक समानता और स्त्री-पुरुष समानता के सिद्धांत सर्वोपरि हो जाते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘यह जाति, नस्ल, धर्म और लिंग के बंधन से परे समाज के सभी वर्ग के लिये उपलब्ध होना चाहिये।’’

बता दें कि श्रीलंका में रविवार को हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में 290 लोग मारे गये जबकि 500 से ज्यादा लोग घायल हुये हैं। इस घटना की दुनिया भर के देशों ने निंदा की है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

नई दिल्ली : उद्योगपति और टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने खुद को 'एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक' माना है। उन्होंने दर्जनभर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों आगे पढ़ें »

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

modi

पीएम मोदी बोले- राष्ट्र निर्माण का आधार है सावरकर के संस्कार

ऊपर