अमेजन के खिलाफ हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप, एफआईआर दर्ज

नई दिल्लीः मशहूर ई-कॉमर्स साइट अमेजन के खिलाफ हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए नोएडा पुलिस ने शुक्रवार को एफआईआर दर्ज कर ली। अमेजन के खिलाफ शिकायत विकास मिश्रा नाम के एक व्यक्ति ने की। विकास का कहना है कि अमेजन ने हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। नोएडा के सेक्टर 58 के थाने में उन्होंने शिकायत की है। पुलिस का कहना है कि अमेजन के खिलाफ धर्म के आधार पर लोगों में दुश्मनी फैलाने के आरोपों के तहत मामला दर्ज किया गया है। गौरतलब है कि ई-कॉमर्स साइट अमेजन पर हिन्दू देवी-देवताओं के चित्र वाले टॉयलेट सीट कवर और कालीन बिक रहे थे, जिसे अब कंपनी हटा रही है।

बायकॉट अमेजन की मुहिम

इस मामले पर सोशल मीडिया पर बायकॉट अमेजन की मुहिम शुरु हो गयी है। शिकायतकर्ता का कहना है कि अमेजन अपनी वेबसाइट पर लगातार ऐसे प्रोडक्ट डालती है जिनसे हिंदुओं की भावनाएं आहत होती हैं। इससे देश में किसी भी समय सांप्रदायिक तनाव फैल सकता है। इसलिए अमेजन के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए ताकि ऐसी घटनाएं बार-बार न हो और हिंदू गर्व और सम्मान के साथ रह सकें।

गलत जगह पर लगाई गई हैं देवी-देवताओं की तस्वीर

इस मामले पर नोएडा के पुलिस उपाधीक्षक (नगर) पीयूष कुमार सिंह ने बताया, “विकास मिश्रा नाम के व्यक्ति ने रिपोर्ट दर्ज कराई है।” एफआईआर में कहा गया है कि अमेजन के प्रबंधकों ने अपनी वेबसाइट पर कुछ बाथरूम की तस्वीरें पोस्ट की हैं जिनमें हिंदू देवी-देवताओं को अपमानित करते हुए उनकी तस्वीरें गलत जगह पर लगाई गई हैं। उन्होंने बताया कि इस बाबत कंपनी के खिलाफ धारा 153 ए के तहत मामला दर्ज किया गया है और आगे की जांच की जा रही है।

बाबा रामदेव ने की आलोचना

योग गुरु बाबा रामदेव ने अमेजन विवाद पर कहा है कि क्या अमेजन इस्लाम और ईसाइयों के पवित्र चित्रों को इस रूप में प्रस्तुत करने का दुस्साहस कर सकता है? बाबा रामदेव ने कहा कि हमेशा भारत के ही देवी-देवताओं का अपमान क्यों। अमेजन को माफी मांगनी चाहिए।

मामले पर अमेजन का जवाब

अमेजन के प्रवक्ता ने इस मामले में कहा है कि सभी विक्रेताओं को कंपनी के दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए। जो ऐसा नहीं करते हैं उन्हें कारवाई का सामना करना पड़ सकता है। उन विक्रेताओं को अमेजन के प्लेटफार्म से हटाया भी जा सकता है। प्रवक्ता ने बताया कि जिन उत्पादों को लेकर सवाल उठाया जा रहा है उन्हें हमारे स्टोर से हटाया जा रहा है।

बता दें कि ऐसा पहली बार नहीं है जब अमेजन की हिंदुओं की आस्था से खिलवाड़ करने के लिए आलोचना हो रही है। 2017 में भी अमेजन के खिलाफ महात्मा गांधी की तस्वीर वाले फुटवियर बेचने की शिकायत मिली थी। कनाडा में तिरंगे की तस्वीर वाले डोरमेट बिकने का मामला भी सामने आया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टाला ब्रिज पर डायवर्सन के कारण 100 मिनी बसें चलाएगा परिवहन विभाग

वाहनों के डायवर्सन से यात्रियों को नहीं होगी समस्याः शुभेन्दु अधिकारी कोलकाताः टाला ब्रिज पर बस व भारी वाहनों की पाबंदी के बाद बड़े पैमाने पर आगे पढ़ें »

बीजीबी की कार्रवाई बेवजह, हमने नहीं चलाई एक भी गोलीः बीएसएफ

मुर्शिदाबादः बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के जवानों ने बीएसएफ के जवान को लक्ष्य कर जानबूझकर चलायी थी गोली। यह मानना है सीमा पर तैनात बीएसएफ आगे पढ़ें »

ऊपर