अभिनंदन को 60 घंटे में रिहा करने के लिए इसलिए मजबूर हुआ पाकिस्तान

नई दिल्लीः पाकिस्तानी एयरफोर्स के साथ डॉगफाइट में एफ-16 को मार गिराने वाले भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन का फाइटर प्लेन मिग-21 के क्रैश होने के कारण 27 फरवरी को पाकिस्तान ने उन्हें हिरासत में ले लिया था, लेकिन रिपोर्ट से अब यह खुलासा हुआ है कि उन्हें 60 घंटे में पाकिस्तान इसलिए रिहा करने को मजबूर हो गया था। इसकी वजह अमेरिका द्वारा बनाया गया दबाव था। अमेरिका ने इसके लिए उच्च-स्तरीय सैन्य चैनलों के माध्यम से पाकिस्तानी सेना से संपर्क किया था। उन्होंने पाक से यह स्पष्ट कहा था कि मौजूदा तनाव को कम करने के लिए यही एकमात्र तरीका है।
रिपोर्ट्स के अनुसार यूएस सेंट्रल कमांड के कमांडर जनरल जोसेफ मोटल ने पाकिस्तान के आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा से बात की। उन्होंने जल्द से जल्द विंग कमांडर अभिनंदन को रिहा करने के लिए कहा।
बता दें कि अमेरिका का सेंट्रल कमांड (सेंटकॉम) यूएस और पाकिस्तान के बीच सैन्य सहयोग का प्रमुख चैनल है। इस कमांड के पास अफगानिस्तान और पाकिस्तान में सैन्य ऑपरेशन करने की जिम्मेदारी भी है। इसके अलावा यह वर्तमान में तालिबान के साथ राजनयिक प्रयास के अफगानिस्तान में शांति स्थापित करने के प्रयासों में लगा हुआ है ।
इन्होंने संभाली थी बातचीत की जिम्मेदारी
अमेरिका की तरफ से बातचीत की जिम्मेदारी कमांडर जनरल जोसेफ मोटल और अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने संभाला था। जो अपने भारतीय समकक्ष अजीत डोभाल से नियमित संपर्क में थे। हालाकि पाकिस्तानी सेना के साथ जनरल जोसेफ मोटल ही बातचीत कर रहे थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

modi

प्रधानमंत्री मंगलवार को उद्योग जगत को करेंगे संबोधित

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को उद्योग मंडल सीआईआई के 125वें स्थापना दिवस पर संबोधित करेंगे। जानकारों के मुताबिक कोरोना महामारी से उपजे आगे पढ़ें »

अभी नहीं चलेंगी निजी बसें

कोलकाता : 1 जून से लॉकडाउन खुलने की शुरुआत हो जाएगी और 8 से काफी हद तक राहत मिल जाएगी, लेकिन बंगाल के लोगों के आगे पढ़ें »

ऊपर