अब काले कोट में नजर नहीं आयेंगे टीटी

नयी दिल्ली : रेलगाड़ियों में टिकट की जांच करने वाले कर्मचारी अब अपने पारंपरिक काले कोट एवं टाई नहीं पहनेंगे। भारतीय रेल के 167 के इतिहास में यह पहला मौका होगा। एक जून से शुरू होने वाले 100 जोड़ी ट्रेनों में सवार टिकट जांच करने वाले कर्मचारियों के लिये कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देनजर रेलवे ने दिशा निर्देश जारी किये हैं, जिसके अनुसार उन्हें मास्क, दस्ताने और साबुन के अलावा आतिशी शीशा दिया जायेगा। हालांकि, वह इस दौरान अपने नाम ओर पद अंकित बैज पहने रहेंगे। दिशा निर्देश में यह भी कहा है कि यह सुनिश्चित करने के लिए जांच की जा सकती है कि टीटीई वास्तव में सुरक्षात्मक उपकरणों का इस्तेमाल कर रहे हैं या नहीं। ट्रेन में सवार टिकट जांच कर्मचारियों को यदि संभव हुआ तो आतिशी शीशा (मैग्निफाइंग ग्लास) दिया जायेगा ताकि वह दूर से ही टिकटों का विवरण देख सकें और शारीरिक संपर्क से बच सकें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Rahul Gandhi

राहुल ने कहा: चीनी घुसपैठ पर लद्दाखवासियों की बात नजरअंदाज नहीं करे सरकार

नयी दिल्ली : कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि देशभक्त लद्दाखवासी चीनी घुसपैठ के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं और आगे पढ़ें »

दुनिया के सामने आ रही चुनौतियों का स्थायी समाधान भगवान बुद्ध के आदर्शों से मिल सकता है : मोदी

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि आज जब विश्व असाधारण चुनौतियों से निपट रहा है तो इनका स्थायी समाधान भगवान आगे पढ़ें »

ऊपर