उन्नाव रेप केस: पी‌ड़िता ने सुनाई हादसे की आपबीती, जानिए क्या कहा

unnao

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश के उन्नाव रेप केस मामले में एक नया मोड़ आया है। लखनऊ के ट्रामा सेंटर से राजधानी दिल्ली के एम्स में लाई गई पी‌ड़िता ने होश में आने के बाद अपने  एक रिश्तेदार के सामने सड़क हादसे की आपबीती सुनाई है। पीड़िता ने बताया कि बिल्कुल सामने से आकर ट्रक ने उनके कार को टक्कर मारा था। साथ ही इस बात की जानकारी भी दी है कि कार चला रहे उनके वकील ने रिवर्स गियर लेकर ट्रक के रास्ते में न आने की पूरी कोशिश की लेकिन ट्रक चालक ने इसके बावजूद उनकी कार को रौंद डाला। हालांकि, पीड़िता और उसके वकील की स्थिती अब भी गंभीर बनी हुई है।

पहले ही हुआ था एहसास होने वाला है कुछ गलत

पीड़िता के साथ रेप हादसे के बाद से ही उसके परिवार के साथ मजबूती से खड़े इस रिश्तेदार ने मीडिया से फोन पर बातचीत के दौरान यह बताया कि ‘मैंने उससे (रेप पीड़िता) पूछा कि उस दिन क्या हुआ था? तो उसने जवाब में बताया कि ‘मैंने ट्रक को सामने से आते देखा, ट्रक को इस तरह से आते हुए देखकर हम डर गए। हमने अलार्म भी बजाया था, जब हमें महसूस हुआ कि ट्रक को जिस तरह से चलाया जा रहा था उसमें कुछ असमान्य है।’ बता दें यह वही रिश्तेदार हैं, जिनकी मां भी सड़क हादसे की शिकार हुई थीं।

वकील ने रिवर्स गियर लेकर बचने की कोशिश की थी

रिश्तेदार के मुताबिक, पीड़िता ने यह बताया कि कार चला रहे वकील ने रिवर्स गियर में कार डालकर ट्रक के रास्ते में आने से बचने की कोशिश की लेकिन वह सफल नहीं हो सके, क्योंकि ट्रक बिल्कुल उन्हीं की तरफ मुड़ गया और फिर यह हादसा हो गया। मालूम हो कि रेप पीड़िता की स्थिति अभी नाजुक बनी हुई है लेकिन बीच में कुछ देर जब वह होश में रहीं, तो उन्होंने अपने रिश्तेदार से इस घटना के बारे जानकारी दी। बता दें कि इस मामले की जांच कर रही सीबीआई को बारे में अभी तक कोई सूचना नहीं दी गई है।

सीबीआई पर से उठ चुका है भरोसा

रिश्तेदार ने बताया कि ‘उसने (पी‌ड़िता )मुझे अकेले में यह बात बताई है,क्योंकि रेप कांड के बाद उन्नाव छोड़ने और इस हादसे तक लगातार मैं उसके साथ रहा हूं। ऐसे में शायद उसका भरोसा मुझ पर अधिक है। साथ ही कहा कि उसने सीबीआई अधिकारियों को भी मिलने से इनकार कर दिया, जो एम्स आए थे।’ रिश्तेदार के अनुसार, पीड़िता का अब सीबीआई से भी विश्वास उठ गया है। रिश्तेदार ने कहा, वह मुझसे कहती है कि यूपी सरकार से विश्वास खत्म होने के बाद अब उसका सीबीआई पर से भी भरोसा उठ गया है। क्योंकि, उसने सीबीआई को कई बार अपने जान के खतरे को लेकर बताया था, लेकिन सीबीआई ने कोई भी ठोस कदम नहीं उठाया।

बता दें कि रायबरेली जेल से चाचा से मिलकर लौटने के दौरान पी‌ड़िता के साथ सड़क हादसा हुआ था, जिसमें घटनास्‍थल पर ही उसकी चाची और मौसी की मौत हो गई थी। वहीं पीड़िता और उसके वकील की हालत गंभीर बनी हुई है। इस हादसे के बाद विपक्ष ने इसे साजिश बताया था और सीबीआई जांच की मांग की थी। सीबीआई के हाथ में केस सौंपे जाने के बाद आरोपी विधायक कुलदीप स‌िंह सेंगर के ‌खिलाफ कार्रवाई हुई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

explosion firecracker factory

यूपी: पटाखा फैक्ट्री में भीषण विस्‍फोट से 6 लोगो की मौत, बिखरे मिले मानव अंग

एटा : उत्तर प्रदेश के एटा इलाके में पटाखा फैक्ट्री में भीषण विस्‍फोट से 6 लोगो की मौत की खबर सामने आई है। विस्फोट के आगे पढ़ें »

khalnayak

खलनायक के सीक्वल में काम करेंगे टाइगर श्राफ,संजय दत्त ने किया कन्‍फर्म

मुंबई : बॉलीवुड अभिनेता टाइगर श्राफ सुपरहिट फिल्म खलनायक के सीक्वल में काम करते नजर आएंगे। कुछ दिनों से सिनेमा जगत में चर्चा थी कि आगे पढ़ें »

ऊपर