ट्रम्‍प ने कश्मीर को धर्म से जोड़ा, मध्यस्‍थता में फिर दिखाई दिलचस्पी

trump

वॉशिंगटन : अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर मुद्दे को लेकर मध्यस्थता करने में फिर से दिलचस्पी दिखाई है। साथ ही उन्होंने कश्मीर के मुद्दे को धर्म के साथ भी जोड़ दिया। मंगलवार को ट्रम्प ने एक साक्षात्कार के दौरान कहा कि “कश्मीर एक जटिल स्थिति है। इस समस्या का संबंध धर्म से भी है।” उन्होंने यह भी कहा कि “आपके पास हिंदू और मुस्लिम दोनों हैं। मुझे नहीं लगता कि दोनों समुदाय अच्छे से साथ रह पाते होंगे। दोनों देशों के बीच बड़ी परेशानियां हैं। यह दशकों से चला आ रहा है। इसे सुलझाने के लिए मैं मध्यस्थता कर सकता हूं।” बता दें कि ट्रम्प ने पहली बार इस मुद्दे पर मध्यस्थता करने की पेशकश नहीं की है, बल्कि पहले भी वह कश्मीर ममले पर मध्यस्थता की बात कह चुके हैं। 22 जुलाई को पाक प्रधानमंत्री इमरान खान के अमेरिका दौरे पर ट्रम्प ने कहा था कि प्रधानमंत्री नेरेंद्र मोदी 2 हफ्ते पहले उनसे कश्मीर मामले पर मध्यस्थता की पेशकश कर चुके हैं। हालांकि, ट्रम्प के इस दावे को भारतीय विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर गलत बताया था।

भारत-पाक चाहेंगे तो उन्हें मध्यस्थता कर के खुशी होगी : ट्रम्प

इमरान खान के अमेरिका दौरे पर ट्रम्प के दावे को गलत बताते हुए सरकार ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और ट्रम्प के बीच ऐसी कोई बातचीत नहीं हुई। साथ ही यह भी कहा गया कि भारत अपने निर्णय पर कायम रहत हुए सारे मसले द्विपक्षीय बातचीत के जरिए ही हल किए जाएंगे। इस बयान के बाद 2 अगस्त को फिर से पत्रकारों से बातचीत में ट्रम्प ने कहा था कि ‘अगर भारत-पाक चाहेंगे तो उन्हें मध्यस्थता कर के खुशी होगी।’

धारा 370 हटने के बाद से ही दोनों देशों के संपर्क में हैं ट्रम्प

इससे पहले रविवार को मोदी और ट्रम्प ने कश्मीर मुद्दे को लेकर फोन पर बातचीत की। दोनों के बीच द्विपक्षीय और क्षेत्रीय मुद्दों पर करीब 30 मिनट तक चर्चा हुई। इस दौरान मोदी ने ट्रम्प से कहा था कि सीमा पार आतंकवाद रोकना और आतंक व हिंसा से मुक्त माहौल बनाना क्षेत्र के लिए जरूरी हो गया है। इतना ही नहीं उन्होंने ट्रम्प से अफगानिस्तान के विषय पर भी बात करते हुए कहा कि भारत एकजुट, सुरक्षित और लोकतांत्रिक अफगानिस्तान के निर्माण के लिए लंबे समय से प्रतिबद्ध है।

ट्रम्प ने इमरान को दी थी ये सलाह- तीखी बयानबाजी से बचो

इस मुद्दे पर मोदी से बात होने के बाद ट्रम्प ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से फोन पर बात की। साथ ही ट्रम्प ने इमरान को यह सलाह दी कि पाक भारत के खिलाफ तीखी बयानबाजी से बचे। इतना ही नहीं उन्होंने जम्मू-कश्मीर के स्थिति को देखते हुए इमरान को भारत के साथ तनाव कम करने के लिए भी कहा। यह ट्रम्प और इमरान के बीच एक हफ्ते में दूसरी चर्चा थी। इससे पहले भी ट्रम्प ने इमरान से कहा था कि कश्मीर पाक और भारत का द्विपक्षीय मुद्दा है और इस पर किसी भी विवाद को सुलझाने के लिए भारत से पाक अपनी तरफ से बात शुरू करें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

explosion firecracker factory

यूपी: पटाखा फैक्ट्री में भीषण विस्‍फोट से 6 लोगो की मौत, बिखरे मिले मानव अंग

एटा : उत्तर प्रदेश के एटा इलाके में पटाखा फैक्ट्री में भीषण विस्‍फोट से 6 लोगो की मौत की खबर सामने आई है। विस्फोट के आगे पढ़ें »

khalnayak

खलनायक के सीक्वल में काम करेंगे टाइगर श्राफ,संजय दत्त ने किया कन्‍फर्म

मुंबई : बॉलीवुड अभिनेता टाइगर श्राफ सुपरहिट फिल्म खलनायक के सीक्वल में काम करते नजर आएंगे। कुछ दिनों से सिनेमा जगत में चर्चा थी कि आगे पढ़ें »

ऊपर