इमरान से बोले ट्रंप : कश्मीर पर सोच-समझकर बयानबाजी करो

नई दिल्ली : जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाये जाने के बाद से पाकिस्तान बौखला हुआ है और लगातार भारत के खिलाफ बयानबाजी कर रहा है। हालांकि, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को भारत के खिलाफ सोच समझकर बयानबाजी करने की सलाह दी है। साथ ही ट्रंप ने दोनों देशों के प्रधानमंत्री से फोन पर बातचीत भी की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात करने के बाद ट्रंप ने इमरान खान से बात की और उन्हें कश्मीर के मुद्दे पर संयम बरतने की सलाह दी है। इसके अलावा उन्होंने भारत-पाकिस्तान से तनाव कम करने की अपील की है। बता दें कि ट्रंप की इमरान से एक हफ्ते के अंदर यह दूसरी बातचीत है।

मोदी ने कहा था – पाक के ऐसे बयान शांति के लिए घातक 

दरअसल, पीएम मोदी ने सोमवार को ट्रंप से करीब आधे घंटे तक फोन पर बातचीत की थी। इस बातचीत के दौरान मोदी ने ट्रंप से पाकिस्तानी नेताओं द्वारा ‘भारत विरोधी हिंसा के लिए उग्र बयानबाजी और उकसावे’ का मुद्दा उठाया था। मोदी ने ट्रंप से जोर देकर कहा कि क्षेत्र में शांति के लिए आतंक और हिंसा से मुक्त माहौल तैयार करना होगा। यह सीमा पार आतंकवाद पर लगाम लगाए बिना संभव नहीं है। साथ ही कहा कि यदि कोई भी देश शांति के इस रास्ते पर चलता है तो भारत उसका साथ देने को तत्पर है। इस रास्ते से ही गरीबी, अशिक्षा और बीमारियों से लड़ा जा सकता है। मालूम हो कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद इमरान खान रोज ट्विटर पर भारत के खिलाफ उग्र बयानबाजी कर रहे हैं।

ट्रंप ने इमरान को दी सलाह

राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि ‘मैंने दो अच्छे दोस्तों पीएम मोदी और पीएम इमरान खान से व्यापार , रणनीतिक साझेदारी और सबसे खास बात कश्मीर में तनाव करने को लेकर बात हुई।’ उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि स्थिति ‘कठिन’ है लेकिन अच्छी बात हुई है। बातचीत के दौरान ट्रंप ने इमरान को जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर भारत के खिलाफ बयानबाजी पर संयम बरतने की नसीहत दी, और कश्मीर पर दोनों देशों से तनाव कम करने का आग्रह किया।

बीते चार दिनों में दूसरी बार इमरान से की बात

व्हाइट हाउस द्वारा जारी बयान में कहा गया कि “राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर में जारी तनाव को कम करने के लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से फोन पर बात की। पिछले चार दिन में यह दूसरा मौका है जब डोनाल्ड ट्रंप और इमरान खान के बीच बातचीत हुई है। इमरान खान ने बीते शुक्रवार को यूएन सुरक्षा परिषद की बैठक के बाद ट्रंप से बात की थी। बता दें कि पाकिस्तान को उम्मीद थी कि अमेरिका, भारत और पाकिस्तान के बीच मध्यस्थता करेगा लेकिन वॉशिंगटन ने साफ कर दिया है कि दोनों देश द्विपक्षीय वार्ता करके सभी मुद्दों को सुलझाएं।

चीन के अलावा पाक को नहीं मिला किसी का समर्थन

जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान पूरी दुनिया से समर्थन जुटाने की कोशिश कर रहा है लेकिन उसे हर जगह से निराशा ही हाथ लग रही है। यूएनएससी के बंद कमरे में हुई बैठक में भी चीन के अलावा पाक को किसी भी देश का समर्थन नहीं मिला। यहां तक कि अरब देश भी कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने को भारत का अंदरूनी मामला मानते हैं। बता दें कि कश्मीर पर पाकिस्तान की हर साजिश भारत नाकाम कर रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘अब देश में होगी राम राज्य की शुरूआत’ : महाजन

इंदौर (मध्यप्रदेश) : अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यास पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने बुधवार को कहा कि इस आगे पढ़ें »

kovind

राम मंदिर आधुनिक भारत का प्रतीक बनेगा : राष्ट्रपति कोविंद

नयी दिल्ली : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बुधवार को कहा कि भगवान राम के मंदिर का निर्माण न्यायप्रक्रिया के अनुरूप तथा जनसाधारण के उत्साह व आगे पढ़ें »

ऊपर