ये लोग बाटला हाउस के आतंकियों के लिए रो सकते हैं, दिल्ली का विकास नहीं कर सकते : मोदी

modis

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए द्वारका में एक जनसभा को संबोधित किया। इस जनसभा में मोदी ने केजरीवाल सरकार पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि दिल्ली में सीएए, अनुच्छेद 370 जैसे राष्ट्रीय सुरक्षा के तमाम फैसलों पर देश का साथ देने वाली सरकार चाहिए। आप पार्टी को घेरते हुए मोदी ने कहा, ये लोग बाटला हाउस के आतंकियों के लिए रो सकते हैं, उनका साथ देने के लिए सुरक्षाबलों को कठघरे में खड़ा कर सकते हैं, लेकिन दिल्ली का विकास नहीं कर सकते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक के बाद दिल्ली की सरकार ने कैसे बयान दिए थे याद है न। उन बयानों का गुस्सा है कि नहीं है। दिल्ली में बैठे लोगों ने इसके सबूूत मांगे थे। उसका गुस्सा है तो 8 फरवरी को इन्हें सजा देने का मौका है। बता दें कि दिल्ली की 70 सीटों पर 8 फरवरी को मतदान होगा। नतीजे 11 फरवरी को आएंगे।

दिल्ली में बेदर्द सरकार बैठी है

मोदी ने कहा, दिल्ली में ऐसी बेदर्द सरकार बैठी है जिसे दिल्ली वालों की जीवन की परवाह नहीं है। दिल्ली के बेघर लोगों का क्या अपराध है कि उन्हें पीएम आवास योजना के तहत अपना घर नहीं मिलता पा रहा। केंद्र सरकार की कई योजनाओं को लागू करने से दिल्ली सरकार ने मना कर दिया है। दिल्ली के गरीबों को 5 लाख रुपये तक मुफ्त इलाज देने वाली आयुष्मान भारत योजना का लाभ भी नहीं मिलता।

सीएए पर फैलाई जा रही झूठी अफवाहें

नागरिकता संशोधन कानून बनने के बाद देश और दिल्ली के लोग पहले दिन से देख रहे हैं कि कैसे इन लोगों द्वारा अफवाहें फैलाई जा रही हैं, झूठ बोला जा रहा है। दिल्ली की जनता सब कुछ देख रही है, सब कुछ समझ रही है।

5 साल में हमने एक के बाद एक मजबूत कदम उठाए

5 साल में हमने एक के बाद एक, मजबूत कदम उठाए हैं। भाजपा ने इच्छाशक्ति दिखाई और आज 40 लाख दिल्लीवालों को अपने मकान और अपनी दुकान का हक मिल गया। अगर बहानों और कोसने से ही काम चलता, तो क्या हमारी सरकार कड़े और बड़े फैसले ले पाती? हम ये कड़े कदम उठा पाते?

मैंने आपका नमक खाया है करके दिखाऊंगा

प्रधानमंत्री ने कहा कि दिल्ली भाजपा के लोग इतने बड़े संकल्प लेते हैं तो मैं भी दिल्ली की रोटी खा रहा हूं ना। आपका नमक खाया है, मैं करके दिखाऊंगा। साथियों, दिल्ली में 21वीं सदी का आधुनिक से आधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चचर, ट्रांसपोर्ट सिस्टम हो। यहां के लोगों के पास सारी बुनियादी सुविधाएं मौजूद हों, स्वच्छ पानी हो और हवा हो, यही हमारी सरकार की प्राथमिकता है। हम जो संकल्प लेते हैं, उसे सिद्ध करते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

10 दिसंबर को होगा नए संसद भवन का शिलान्यास

नई दिल्लीः लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने शनिवार को कहा कि नए संसद भवन का शिलान्यास 10 दिसंबर को 1 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगे पढ़ें »

सरकार ने किसानों से मांगा 3 दिन का वक्त

सीनियर सिटीजंस और बच्चों से घर लौटने की अपील नई दिल्लीः कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन का आज 10वां और अहम दिन था आगे पढ़ें »

ऊपर