देश में बनेगा पहला गार्बेज कैफे, कचरा देने पर मुफ्त मिलेगा नाश्ता-खाना

Plastic waste

अंबिकापुर : प्लास्टिक कचरा आज के समय में पूरे विश्व के लिए समस्या बना हुआ है। पर्यावरण को इससे होने वाले नुकसान से बचाने के लिए दुनिया भर के देश कोशिशों में जुटे हैं। इसी सिलसिले में अब छत्तीसगढ़ राज्य के अंबिकापुर में देश का पहला गार्बेज (कचरा) कैफे खोलने की योजना बनाई गई है। इस योजना के तहत गरीब और बेघर लोगों को सड़क पर बिखरे एक किलो प्लास्टिक कैरी बैग लाने पर मुफ्त भोजन और आधा किलो लाने पर नाश्ता कराया जाएगा। नगर निगम ने सोमवार को बजट पेश किया जिसमें इस योजना के लिए साढ़े पांच लाख रुपए की राशि स्वीकृत की गई है। इस दौरान मेयर डॉ. अजय तिर्की भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि ‘गार्बेज कैफे के तहत इस अभियान को शुरू करने वाला अंबिकापुर देश का पहला शहर होगा। अब तक किसी निगम ने ऐसी व्यवस्था नहीं की है।’
बेघरों के रहने का भी होगा प्रबंध
केवल भोजन ही नहीं बल्कि गरीबों और बेघरों के लिए रहने के इंतजाम भी इस योजना के अंर्तगत किए जाऐंगे। जानकारी के अनुसार इस योजना को देश में चल रहे स्वच्छता अभियान से भी जोड़ा जाएगा। मालूम हो कि मैसूर के बाद देश का दूसरा सबसे स्वच्छ शहर अंबिकापुर है।
प्लास्टिक ग्रेनुअल से बनेगी सड़क
मेयर डॉ. अजय तिर्की ने जानकारी दी कि प्लास्टिक कैरी बैग्स पर तो राज्य में पहले से ही प्रतिबंध लगा हुआ है पर गार्बेज कैफे के माध्यम ये अभियान और भी सशक्त होगा। प्लास्टिक को एकत्र करके उसके ग्रेनुअल का इस्तेमाल सड़क बनाने में किया जाएगा। प्लास्टिक ग्रेनुअल से बनी हुई सड़क बहुत मजबूत होती है और लम्बे समय तक इसमें कोई खराबी नहीं आती क्योंकि पानी इसके भीतर प्रवेश नहीं कर पाता। मेयर ने दावा किया कि 8 लाख प्लास्टिक के मिश्रण से प्रदेश में पहली सड़क यहीं बनाई गई थी।

बता दें कि लोगों द्वारा दिए गए प्लास्टिक को इकट्ठा करके निगम रिसाइकिल कर सड़क बनाने में इस्तेमाल करेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

गूगल मैप ने चार महीने से लापता बेटी को पिता से मिलाया

नयी दिल्लीः गूगल मैप की सहायता से दिल्ली पुलिस ने चार महीने से लापता हुई 12 वर्षीय बच्ची को उसके पिता से मिला दिया। पुलिस आगे पढ़ें »

current

कर्नाटक: सरकारी हाॅस्टल के 5 छात्रों की करंट लगने से हुई मौत

बेंगलुरू : कर्नाटक में हुए दर्दनाक हादसे में एक सरकारी हॉस्टल में करंट लगने से पांच छात्रों की मौत हो गई। घटना की सूचना पाकर आगे पढ़ें »

ऊपर