अग्नि-2 मिसाइल का सफल रात्रि परीक्षण,मारक क्षमता 2000 किलोमीटर

AGNI 2

नई दिल्ली : भारत ने शनिवार को मध्यम दूरी के बैलेस्टिक मिसाइल अग्नि-2 का सफल परीक्षण किया है। सूत्रों के मुताबिक ओडिशा के बालासोर से इस मिसाइल का सफल परीक्षण किया गया। बता दें  कि सतह से सतह पर मार करने वाली मिसाइल का परीक्षण समन्वित परीक्षण रेंज (आईटीआर) से किया गया।

रात में किया गया पहला परीक्षण

अग्नि-2 मिसाइल का परीक्षण पिछले साल ही कर लिया गया था लेकिन रात के समय इसका परीक्षण पहली बार हुआ है। यह मिसाइल 2000 किलोमीटर तक मार कर सकती है। न्यूक्लियर हथियार ले जा सकने में सक्षम इस मिसाइल की मारक क्षमता को दो हजार से बढ़ाकर तीन हजार किमी तक किया जा सकता है। भारत ने इससे पहले छह फरवरी को स्वदेश निर्मित अग्नि-1 बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया था। भारतीय सेना के सामरिक बल कमांड ने बालासोर स्थित अब्दुल कलाम द्वीप से इंटीग्रेटेड टेस्ट रेंज (आईटीआर) के लॉन्च पैड-4 से 700 किलोमीटर दूरी की मारक क्षमता वाली मिसाइल का परीक्षण किया था।

इंटीग्रेटेड गाइडेड मिसाइल है

मालूम हाे कि अग्नि 2 बैलिस्टिक मिसाइल 20 मीटर लंबी होती है और यह 1000 किलो तक का वजन ले जाने में सक्षम है। अग्नि-2 मिसाइल को पहले ही सेना में शामिल किया जा चुका है। इसे डीआरडीओ की एडवांस्ड सिस्टम्स लेबोरेटरी ने तैयार किया है। इस मिसाइल को इंटीग्रेटेड गाइडेड मिसाइल डेवलपमेंट प्रोग्राम के तहत बनाया गया है।

अग्नि सीरीज मिसाइल का हिस्सा

अत्याधुनिक नैविगेशन सिस्टम से युक्त इस मिसाइल में बेहतरीन कमांड और कंट्रोल सिस्टम है। यह मिसाइल अग्नि सीरीज मिसाइल का हिस्सा है। इस सीरीज में 700 किमी तक जाने वाली अग्नि-1 और 3000 किमी तक जाने वाली अग्नि-3 मिसाइल भी शामिल हैं। इनके अलावा लंबी दूरी तक मार करने वाली अग्नि-4 और अग्नि-5 भी इस सीरीज का हिस्सा हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बिग बॉस 13 से बाहर होंगे सिद्धार्थ शुक्ला,जानकर दुखी हुए फैन

मुंबई : टीवी रिएलिटी शो बिग बॉस का सीजन 13 कई मायनों में सुपरहिट साबित हो रहा है और रोजाना कोई ना कोई नया विवाद आगे पढ़ें »

टाला ब्रिज पुनर्निमाण के लिए बस रूट डायवर्जन पर मालिकों ने मांगी सब्सिडी

कोलकाता : दरारें और संरचना में खामियां नजर आने के बाद टाला ब्रिज से बसों का परिचालन बंद है। अब बस और मिनी बस मालिकों आगे पढ़ें »

ऊपर