उन्नाव पीड़िता के परिवार से मिलीं प्रियंका, राहुल ने देश को बताया दुनिया का रेप कैपिटल

नई दिल्ली : उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की मौत के बाद उत्तर प्रदेश में सियासी हलचल तेज हो गई है। एक ओर शनिवार को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव लखनऊ में यूपी विधानसभा के बाहर दुष्कर्म पीड़िता के साथ न्याय की मांग करते हुए धरने पर बैठ गए हैैं। वहीं दूसरी ओर, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी अपना कार्यक्रम बदलते हुए उन्नाव में पीड़िता के परिवार से मुलाकात करने पहुंच गईं।

यहां महिलाओं के लिए कोई स्‍थान नहीं

उन्नाव पीड़िता के परिवार से मिलने पहुंची कांग्रेस महासचिव ने राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, मुख्यमंत्री कहते हैं कि राज्य में अपराधियों के लिए कोई स्‍थान नहीं है, लेकिन मुझे तो ऐसी लगता है कि यहां महिलाओं के लिए कोई स्‍थान नहीं है। प्रदेश के प्रशासन को यह जवाब देना होगा कि ऐसा क्यों हो रहा है।

परिवार को धमकियां दी गई

पीड़िता के पिता ने प्रियंका से बात की और अपने परिवार पर हुए अत्याचारों को सामने रखा। उन्होंने कहा कि इस एक साल में हमारे परिवार पर आरोपियों की ओर से अत्याचार किया गया। परिवार को मार डालने और जला डालने की धमकियां दी गई। यहां तक कि बच्ची को स्कूल ना भेजने की धमकी भी दी गई।

राज्य में अपराधियों को डर नहीं

पीड़िता के परिवार से मुलाकात के बाद प्रियंका गांधी ने कहा, परिवार के सदस्यों ने उन्हें बताया कि घर में घुसकर आरोपियों ने रेप पीड़िता को भी मारापीटा था। बीते एक साल से पीड़िता और उसके परिवार पर अत्याचार किया जा रहा था। प्रियंका ने कहा कि, मैंने यह भी सुना है कि दोषियों का भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से भी संबंध है। राज्य में अपराधियों में कोई डर नहीं है।

सरकार क्या कर रही है?

बता दें कि प्रियंका गांधी ने पीड़िता के परिवार से मिलने के पूर्व अपने ट‌्विटर के जरिए योगी और बीजेपी सरकार पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि उत्तरप्रदेश में रोज महिलाओं पर अत्याचार हो रहा है, सरकार क्या कर रही है? प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, “उन्नाव की पिछली घटना को ध्यान में रखते हुए सरकार को तत्काल पीड़िता को सुरक्षा क्यों नहीं दी गई? जिस अधिकारी ने उसका एफआईआर दर्ज करने से मना किया उस पर क्या कार्रवाई हुई? उप्र में रोज रोज महिलाओं पर जो अत्याचार हो रहा है, उसको रोकने के लिए सरकार क्या कर रही है?”

ट्वीट के जरिए उन्होंने बताया कि “राएबरेली कोर्ट के आदेश पर एफआईआर हुई मगर दो महीने के अंदर ही आरोपी को बेल मिल गई। पीड़िता रोज अकेले ट्रेन से राएबरेली अपना केस लड़ने जाती थी। थाने में बार-बार गुहार लगाने के बाद भी उसे कोई सुरक्षा नहीं मिली और एक दिन पांच लोग मिलकर उसे जला देते हैं।”

दुनिया की रेप कैपिटल बना भारत

इस बीच प्रियंका के भाई और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा कि भारत दुनिया की रेप कैपिटल बन गया है। इसके साथ ही उन्होंने ट्वीट के जरिए पीड़िता की मौत पर आक्रोश व्यक्त किया, “उन्नाव की मासूम बेटी की दुखद एवं हृदय विदारक मौत, मानवता को शर्मसार करने वाली घटना से आक्रोशित एवं स्तब्ध हूं। एक और बेटी ने न्याय और सुरक्षा के आस में दम तोड़ दिया।”

मुझे जलाने वालों को छोड़ना मत

बता दें कि उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता आखिरकार जिंदगी की जंग हार गई। शुक्रवार रात 11: 40 पर दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में उसने दम तोड़ दिया। हालांकि 90 प्रतिशत से भी ज्यादा जल जाने के बावजूद यूपी की यह ‘निर्भया’ आखिरी वक्त तक मौत से जूझती रही। गुरुवार रात 9 बजे तक होश में रहने के दौरान उसकी एक ही मांग थी- मुझे जलाने वालों को छोड़ना मत। लेकिन कार्डिएक अरेस्ट के चलते डॉक्टर उसे नहीं बचा सके।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सीएए और एनआरसी को लेकर मेयर ने बोला हमला

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मेयर और मंत्री फिरहाद हकीम ने सीएए और एनआरसी को लेकर एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला। रविवार को रक्तदान आगे पढ़ें »

ईस्ट वेस्ट मेट्रोः इस महीने शुरु होने की उम्मीदें बढ़ीं

नए जीएम ने मेट्रो परियोजना का किया निरीक्षण सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः साल्टलेक स्टेडियम से साल्टलेक सेक्टर-5 तक मेट्रो परियोजना के शुरू होने की उम्मीदें एक बार फिर आगे पढ़ें »

ऊपर