पीएम मोदी मलेशिया के प्रधानमंत्री से मिले, जाकिर नाइक के प्रत्यर्पण का उठाया मुद्दा

modi-mahathir

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रूस में दो दिन के दौरे पर है। पीएम मोदी ने वृहस्पतिवार को व्‍लादिवोस्‍तोक में मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद से मुलाकात की। इस दौरान दोनों नेताओं के बीच भगोड़े मुस्लिम धर्म गुरु जाकिर नाईक के प्रत्यर्पण को लेकर चर्चा हुई। इस बात की जानकारी विदेश सचिव विजय गोखले ने दी। नाईक के प्रत्यर्पण मुद्दे पर महातिर ने पीएम मोदी को भरोसा दिलाया मलेशिया इस मसले पर भारत का साथ देगा। साथ ही इस मुद्दे को महत्‍वपूर्ण बताते हुए दोनों नेताओं ने फैसला किया है कि इस मामले पर दोनों देश के अधिकारी आपस में संपर्क में रहेंगे।

ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम – पीएम मोदी

पीएम मोदी रूस दौरे के दौरान वृहस्तपतिवार को व्लादिवोस्तोक में होने वाले ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम की बैठक में शामिल होंगे। इससे पहले उन्होंने जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे से मुलाकात किया। इस दौरान दोनों नेताओं के बीच द्विपक्षीय संबंधों पर बातचीत हुई है। सूत्रों के अनुसार दोनों नेताओं के बीच 5जी टेक्नोलॉजी, रक्षा और व्यापार पर बातचीत हुई है। बता दें कि पीएम मोदी के रूस दौरा का आखिरी दिन है।

मलेशिया सरकार ने प्रतिबंध लगाया

मलेशिया सरकार ने जाकिर नाईक पर विवादित बयान को लेकर प्रतिबंध लगाया था। नाईक पर मलेशिया में अल्पसंख्यक हिंदुओं और चीन के लोगों की भावनाएं आहत करने का आरोप है। मलेशिया के गृहमंत्री एम यासीन ने नाईक को चेतावनी दी थी। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा था कि देश से ऊपर कोई भी नहीं है। भारत सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद नाईक ने भड़काऊ बयान दिया था। बता दें कि नाईक की संस्‍था पीस टीवी के नाम से चैनल भी चलाती है। भारत में इस चैनल का प्रसारण गैर कानूनी है, इसके बावजूद नाईक तकनीक का इस्तेमाल करके भड़काऊ भाषणों का प्रचार, प्रसार करता रहता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बाहरियों से बचाना है बंगाल की संस्कृति को : फिरहाद

उत्तर बैरकपुर में नवनिर्मित कन्वेंशन सेंटर का हुआ उद्घाटन बैरकपुर : तथाकथित बड़े नेता बंगाल के जिलों व शहरों में चक्कर लगा रहे हैं और यहां आगे पढ़ें »

एकजुट होकर करें काम, दिल्ली ने दी भाजपा के बड़े नेताओं को चेतावनी

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : विधानसभा चुनाव करीब है और ऐसे समय में अलग - अलग होकर प्रदर्शन अथवा किसी अन्य तरह का काम करना नहीं चलेगा। आगे पढ़ें »

ऊपर