असम में बोले पीएम मोदी- वे डंडे मारने की बात करते हैं, मेरे पास आपका सुरक्षा कवच

modi

कोकराझार (असम) : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोडो समझौते और सीएए के खिलाफ जारी प्रदर्शनों के बाद शुक्रवार को पहली बार असम के दौरे पर पहुंचे। मोदी यहां बोडो बाहुल्य कोकराझार में समझौते के जश्न में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने ने एक बाद फिर राहुल गांधी के डंडे वाले बयान का जिक्र किया और कहा कि उनके पास डंडे से बचने के लिए मां-बहनों का आशीर्वाद है। साथ ही मोदी ने बोडो समझौते के लिए वहां के लोगों को धन्यवाद दिया। मोदी ने कहा कि लोगों के सहयोग के कारण ही बोडो शांति समझौता हुआ और असम में शांति की नई सुबह हुई। इस समझौते पर 27 जनवरी को हुए हस्ताक्षर का जश्न मनाने के लिए एक बड़ी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि अब पूर्वोत्तर की शांति और विकास के लिए एक साथ मिलकर काम करने का वक्त है। बता दें कि इस समझौते से असम में शांति कायम होने की उम्मीद की जा रही है।

बोडो समझौता समाज के सभी समुदायों की जीत

मोदी ने कहा, हम अब हिंसा को लौटने नहीं देंगे। उन्होंने नये नागरिकता कानून के लागू होने को लेकर क्षेत्र के लोगों की चिंताओं को भी दूर करने का प्रयास किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘झूठी अफवाहें फैलाई जा रही है कि सीएए लागू होने के बाद बाहर के लाखों लोग यहां आ जाएंगे। मैं असम के लोगों को आश्वस्त करता हूं कि ऐसा कुछ भी नहीं होगा।’ साथ ही उन्होंने कहा कि ‘बोडो समझौता समाज के सभी समुदायों और वर्गों के लिए जीत है। कोई भी हारा नहीं है।’

माताओं का प्यार मुझे डंडे मारने वाले से सुरक्षा कवच देगा

प्रधानमंत्री ने कहा कि असम की माताओं का प्यार मुझे डंडे मारने की बात करने वाले से सुरक्षा कवच देगा। बता दें कि पिछले दिनों कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने दिल्ली की एक चुनावी रैली में मोदी को डंडे मारने वाला बयान दिया था, जिस पर मोदी ने कटाक्ष करते हुए कहा कि कभी-कभी लोग मुझे डंडा मारने की बातें करते हैं, लेकिन जिस मोदी को इतनी बड़ी मात्रा में माताओं-बहनों का सुरक्षा कवच कितने ही डंडे बरशाऐ उसे कुछ नहीं हो सकता।

असम सहित पूरे नॉर्थईस्ट में एक नई शुरुआत

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज का दिन असम सहित पूरे उत्तर-पूर्व के लिए 21वीं सदी में एक नई शुरुआत के स्वागत करने का अवसर है। आज का दिन संकल्प लेने का है कि विकास और विश्वास की मुख्यधारा को मजबूत करना है। साथ ही उन्होंने कहा ‌कि अब हिंसा के अंधकार को इस धरती पर लौटने नहीं देना है। अब इस धरती पर किसी मां के बेटे-बेटी किसी बहन-भाई का खून नहीं गिरेगा। हिंसा नहीं होगी।

असम अकॉर्ड की धारा-6 भी जल्द होगी लागू

मोदी ने कहा, अब सरकार की यह कोशिश है कि असम अकॉर्ड की धारा-6 को भी जल्द लागू किया जाए। उन्होंने बताया कि इस मामले में कमेटी रिपोर्ट आने के बाद केंद्र सरकार और त्वरित गति से कार्रवाई करेगी। मोदी ने कहा कि अनेक वर्षों से असम की जो बात लटकी पड़ी थी, उसको भी हम पूरा कर के रहेंगे। इस क्षेत्र को 1500 करोड़ रुपए का विशेष विकास पैकेज मिलेगा, जिसका बहुत बड़ा लाभ कोकराझार, चिरांग, बक्सा और उदालगुड़ि जैसे जिलों को मिलेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मुक्‍केबाज अमित पंघाल और विकास कृष्णन खेल रत्न के लिए नामित

नयी दिल्ली : भारतीय मुक्केबाजी संघ (बीएफआई) ने सोमवार को विश्व चैम्पियनशिप के रजत पदक विजेता अमित पंघाल और अनुभवी विकास कृष्णन को राजीव गांधी आगे पढ़ें »

दबाव में विराट और भी शानदार प्रदर्शन करते हैं : स्टीव स्मिथ

मुंबई : दुनिया के सर्वश्रेष्ठ टेस्ट बल्लेबाजों में से एक स्टीव स्मिथ सीमित ओवरों की क्रिकेट में लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय कप्तान कोहली आगे पढ़ें »

ऊपर