कांग्रेस और एनसीपी के साथ मीटिंग पर पवार ने कहा-किसने कहा? मुझे नहीं पता

Sharad Pawar

नई दिल्‍ली : महाराष्ट्र में सोमवार को दिनभर चली सियासी उठापटक के बावजूद सरकार गठन का पेंच और उलझ गया है। महाराष्ट्र के राज्यपाल बी.एस. कोश्यारी ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) को राज्य में अगली सरकार बनाने का न्योता दिया है। अब बड़ा सवाल यह है कि क्‍या शिवसेना एनसीपी को सरकार बनाने के लिए अपना समर्थन देगी। यदि शिवसेना ऐसा नहीं करती है तो राज्‍यपाल के पास राष्‍ट्रपति शासन का विकल्‍प ही बचेगा। इस पर मंगलवार को जब एनसीपी चीफ शरद पवार से सवाल पूछा गया तो उन्होंने चुप्पी साध ली। वहीं अजित पवार ने कहा है कि उन्हें कांग्रेस की चिट्ठी नहीं मिली है जो सरकार बनाने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है। जब शरद पवार से यह पूछा गया कि क्या कांग्रेस के साथ कोई बैठक होनी है तो उन्होंने कहा कि कौन कहता है कि कोई बैठक है? मुझे नहीं पता।


माणिकराव के बयान से खफा हुई सुप्रिया

वहीं इस बाबत खबरें आईं थी कि शिवसेना को समर्थन देने के मुद्दे पर कांग्रेस के तीन वरिष्‍ठ नेताओं को मंगलवार को एनसीपी के साथ मीटिंग के लिए मुंबई जाना था। लेकिन इस बीच महाराष्‍ट्र कांग्रेस नेता माणिकराव ठाकरे ने मंगलवार को सुबह कहा कि कांग्रेस से दिल्‍ली के नेता दो दिन बाद महाराष्‍ट्र आएंगे। माणिकराव के बयान पर शरद पवार की पुत्री और एनसीपी नेता सुप्रिया सुले ने नाराजगी जाहिर की। उन्‍होंने उनके बयान पर यहां तक कह डाला कि मैं माणिकराव को नहीं जानती। कांग्रेस पार्टी के समर्थन के लिए हम सीधे पार्टी आलाकमान से बात करेंगे। इस तरह एनसीपी और कांग्रेस के बीच भी मतभेद उभरते दिख रहे हैं।

बातचीत करके ही होगा फैसला

कांग्रेस नेता एवं महाराष्‍ट्र प्रभारी मल्लिकार्जुन खड़गे ने समाचार एजेंसी से बातचीत में कहा कि एनसीपी प्रमुख से बातचीत जारी है। हम एक-दूसरे से बातचीत करके ही कोई फैसला लेंगे। इस बीच कुछ मीडिया रिपोर्टों में दावा किया गया है कि कांग्रेस नेता अहमद पटेल, मल्लिकार्जुन खड़गे और केसी वेणुगोपाल दोपहर बाद मुंबई रवाना होंगे।

राष्ट्रपति ने किया सावंत का इस्तीफा मंजूर
राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री अरविंद गणपत सावंत का इस्तीफा मंजूर कर लिया है। कोविंद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सिफारिश पर सावंत का इस्तीफा मंजूर किया। उन्होंने महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी के साथ रिश्ते खराब होने के बाद सोमवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। राष्ट्रपति भवन से जारी विज्ञप्ति के अनुसार सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को राष्ट्रपति ने सावंत के मंत्रालय का अतिरिक्त कार्यभार संभालने का निर्देश दिया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मालदह में युवती से ‘गैंग रेप’, फिर जिंदा जलाया

हैदराबाद जैसी घटना से बंगाल स्तब्ध शव की हालत इतनी खराब कि उसकी शिनाख्त नहीं हो पायी सन्मार्ग संवाददाता मालदहः हैदराबाद सामूहिक दुष्कर्म और हत्याकांड जैसी घटना गुरुवार आगे पढ़ें »

बिग बॉस 13 से बाहर होंगे सिद्धार्थ शुक्ला,जानकर दुखी हुए फैन

मुंबई : टीवी रिएलिटी शो बिग बॉस का सीजन 13 कई मायनों में सुपरहिट साबित हो रहा है और रोजाना कोई ना कोई नया विवाद आगे पढ़ें »

ऊपर