एलओसी पर पाक बना रहा लॉन्च पैड, 275 आतंकी घुसपैठ को तैयार

terrorists

नई दिल्ली : जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जान के बाद से ही बौखलाया पाकिस्तान दुनिया भर से ठुकराए जाने के बाद आखिकार अपने नापाक इरादों को जाहिर करने से बचा नहीं पाया। गुप्त सूत्रों से मिली जानकारी में यह पता चला है कि एलओसी के पास पाकिस्तान ने अपने आतंकी कैंप को फिर से सक्रिय कर दिया है। इतना ही नहीं उसने 7 लॉन्च पैड भी तैयार किया है। साथ ही 275 आतंकी भी सक्रिय हैं। घाटी में अशांति फैलाने के मकसद से अफगान और पश्तून सिपाही भी तैनात किए जा रहे हैं। बता दें कि पाक ने ऐसे समय में यह कदम उठाया है कि जब अगले महीने वैश्विक आतंकी वित्त पोषण गतिविधियों पर नजर रखने वाली संस्था फाइनैंशल ऐक्शन टास्क फोर्स पाकिस्तान के भविष्य पर महत्वपूर्ण फैसला लेने वाला है।

आतंक फैलाने के लिए हो रहा इनका इस्तेमाल

एक वरिष्ठ खुफिया सूत्र से मिली जानकारी से यह मालूम हुआ है कि पाकिस्तान अफगान और पश्तून जिहादियों को सीमापार से कश्मीर में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए इस्तेमाल कर रहा है। हालांकि यह साधारण तरीके से बिलकुल अलग है। लेकिन पाक ऐसा पहली बार नहीं कर रहा है। इससे पहले भी पाक ने साल 1990 के दौर में विदेशी लड़ाकों को कश्मीर में हिंसा भड़काने और आतंक फैलाने के लिए इस्तेमाल कर चुका है।

प्रॉक्सी वॉर के लिए चली थी ये चाल

मालूम हो कि पाकिस्तान ने सबसे पहले भारत के खिलाफ विदेशी लड़ाकों का इस्तेमाल सीमापार से आतंक फैलाने के लिए साल 1990 के दशक में किया था। पाक ने यह चाल भारत के के खिलाफ घाटी में प्रॉक्सी वॉर को अंजाम देने के लिए चली थी। भारत ने जब पाक प्रायोजित आतंकवाद के खिलाफ सख्त कार्रवाई की तब जाकर पाकिस्तान ने अपनी रणनीति बदली थी। लेकिन अब पाक पंजाब और पीओके के लोगों को ही कश्मीर में हिंसा फैलाने के मकसद से भेज रहा है।

इस सेक्टर से भारत में घुसने के फिराक में आतंकी

खास खुफिया सूत्रों से यह पता चला है कि पाकिस्तान की सेना और आईएसआई साथ मिलकर भारत के खिलाफ षड्यंत्र रचने में पूरी तरह से जुटे हैं। इतना ही नहीं एलओसी में पाकिस्तान ज्यादा से ज्यादा तादात में आतंकियों को तैयार तथा लॉन्च पैड का भी निर्माण कर रहा है। वहीं खुफिया जानकारों का अनुमान है कि आतंकी उत्तरी कश्मीर के गुरेज सेक्टर से भारत में घुसने के फिराक में है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

नागरिकता कानून के खिलाफ ममता की रैली, कहा- भाजपा पैसे देकर कराती है हिंसा

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपनी पार्टी के हजारों कार्यकर्ताओं के साथ सोमवार को कोलकाता की सड़कों पर उतरीं और पूरे देश आगे पढ़ें »

chauhan

असम में तैनात सेना की टुकड़ियां एक या दो दिन में बैरक में वापस आ जाएंगी: सेना कमांडर

कोलकाता : सेना के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान ने सोमवार को कहा कि असम में ‌स्थिति तेजी से सुधर रही है। उन्होंने उम्मीद जताई आगे पढ़ें »

ऊपर