हरामीनाले के पास पाकिस्तान ने चीन को 55 वर्ग किमी जमीन दी

Pakistan gives land to China

नारायण सरोवर (गुजरात) : कश्मीर मामले में अंतरराष्ट्रीय स्‍तर पर मुंह की खाने के बाद, अब बौखलाए पाकिस्तान ने भारत को घेरने और परेशान करने के लिए एक नई चाल चली है। जिसमें चीन भी उसका साथ दे रहा है। हाल ही में पाकिस्तान ने भारत की कच्छ सीमा पर हरामीनाला से करीब 10 किलोमीटर दूर स्थित 55 वर्ग किमी जमीन चीन की एक कंपनी को लीज पर दे दी है। गौरतलब है कि यह जगह अंतरराष्ट्रीय जलसीमा से 10 किलोमीटर की दूरी पर ‌है। इतना ही नहीं सामरिक एवं सैन्य रूप से यह इलाका भारत के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। यह भारत में घुसपैठ के लिए कमजोर निशाना है। बताया जा रहा है कि चीनी कंपनी ने यहां निर्माण कार्य भी शुरू कर दिया है।

भारत में घुसपैठ का कमजोर निशाना

दरअसल, कच्छ सीमा से सटा 22 किमी फैलाव वाला हरामीनाला भारत में घुसपैठ के लिए कमजोर निशाना है। यहां अक्सर पाकिस्तानी घुसपैठियों की नावें पायी गयी हैं। इससे पहले पाकिस्तान ने सिंध प्रांत के थरपारकर में 3 हजार किमी इलाके में फैले आर्थिक गलियारे की सुरक्षा के लिए चीनी जवानों की तैनाती करवाई थी।

क्यों इस जगह का किया चुनाव

बता दें कि इसी जगह का चुनाव इसलिए किया गया क्योंकि साल 1965 और साल 1971 के युद्ध में कच्छ सीमा के मोर्चे पर भारत ने पाकिस्तान को बुरी तरह पराजित किया था। यही कारण है कि पाकिस्तान ने चीनी कंपनी को यहां जगह देकर उसे अपने ढाल के रूप में इस्तेमाल करने की चाल चली है। पाकिस्तान को लगता है कि यहां चीन की उपस्थिति से भारत कोई दुस्साहस नहीं करेगा। वहीं चीन हर तरफ से भारत को घेरने की योजना में काफी पहले से लगा है। इससे पहले पाकिस्तान ने कराची के पास स्थित ग्वादर बंदरगाह को भी चीन को दे दिया था, जिसे अब चीन ही चला रहा है। चीन के जवाब में भारत ने भी ईरान के चाहबार बंदरगाह को विकसित किया।

इस नाले से आतंकी कर चुके घुसपैठ

पाकिस्तान हमेशा से इस नाले का इस्तेमाल भारत के खिलाफ किया है। यह क्षेत्र आतंकियों के घुसपैठ के लिए कुख्यात है। साल 2001 में आए भूकंप के बाद पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी यहां का जायजा लेने आने वाले थे। उनकी कच्छ यात्रा से पहले लश्कर-ए तैयबा के प्रशिक्षित आतंकी शाहनवाज हुसैन भट्‌टी उर्फ मुजम्मिल को आईएसआई ने 32 किलो आरडीएक्स, ग्रेनेड्स और एके-47 के साथ नाव के जरिए घुसपैठ कराई थी। हालांकि, उसे हाजीपीर के भीटारा विस्तार में पकड़ लिया गया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Bill Gates

भारतीय अर्थव्यवस्था में विकास करने की क्षमता, संकट दूर होगी : बिल गेट्स

नई दिल्‍ली: आर्थिक मंदी से जूझ रहे भारत और इस पर लगातार मोदी सरकार की हो रही खिंचाई के बीच माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक और दुनिया आगे पढ़ें »

tiger

रानीबाग रेस्क्यू सेंटर में रखा जायेगा आदमखोर बाघ

ऋषिकेश : जिम कार्बेट टाइगर रिजर्व की ढिकाला रेंज के तुन भूजी क्षेत्र से शनिवार सुबह पकड़े गए बूढ़े आदमखोर बाघ को उसकी खतरनाक प्रवृत्ति आगे पढ़ें »

ऊपर