दिल्ली के हिंसाग्रस्त इलाकों में पहुंचे एनएसए डोभाल, कहा- हालात नियंत्रण में

dovali

नई दिल्ली : राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार (एनएसए) अजीत डोभाल दिल्ली में हिंसा से प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं। साथ ही वह लोगों से बातें कर पूरी स्थिति का जायजा भी ले रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें निर्देश दिया है कि वे उत्तर पूर्वी दिल्ली के दंगों में स्थिति को सामान्य करें। अधिकारियों ने बताया कि निर्देश मिलने के तुरंत बाद डोभाल ने दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक और नव नियुक्त विशेष आयुक्त एस एन श्रीवास्तव और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ देर रात में दौरा किया। बता दें कि दिल्ली में हिंसा के कारण अब तक लगभग 22 लोगों की मौत हो गई है। साथ ही 250 से अधिक लोग घायल हुए हैं।

एनएसए डोभाल ने किया मौजपुर का दौरा

एनएसए अजीत डोभाल बुधवार दोपहर बाद दंगाग्रस्त इलाके मौजपुर का दौरा किया। यहां उन्होंने गलियों में जाकर लोगों से बातचीत की। इस दौरान उनके साथ दिल्ली पुलिस लॉ एंड ऑर्डर के विशेष आयुक्त एसएन श्रीवास्तव भी मौजूद थे। अजीत डोभाल ने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘‘स्थिति नियंत्रण में है और लोग संतुष्ट हैं। हमें कानून लागू करने वाली एजेंसियों पर भरोसा है। पुलिस अपना काम कर रही है और सतर्क है।’’

दिल्ली हिंसा में मरने वालों की संख्या 22 हुई

संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के विरोध में उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सांप्रदायिक हिंसा में मरने वालों की संख्या बुधवार को बढ़कर 22 हो गई। जीटीबी अस्पताल के अधिकारियों ने यह जानकारी दी। मंगलवार तक मृतकों की संख्या 13 थी। जीटीबी अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक (एमएस) सुनील कुमार गौतम ने कहा कि मरने वालों की संख्या बढ़कर 22 हो गई है। साथ ही एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मरने वाले लोगों में से 4 को बुधवार सुबह लोकनायक जयप्रकाश नारायण (एलएनजेपी) अस्पताल से लाया गया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोरोना से हुए नुकसान को कम करने के लिए सरकार जल्द नए राहत पैकेजों की घोषणा करेगी

नई दिल्ली : कोरोना के कारण हुए लॉक डाउन के कारण देश की अर्थव्यवस्था को काफी नुकसान हुआ है। वित्त मंत्रालय लगातार राहत पैकेज पर आगे पढ़ें »

आईपीएल रद्द हुआ तो कई खिलाड़ी डिप्रेशन में आ सकते हैं : पैडी अपटन

नयी दिल्‍ली : कोरोनावायरस के कारण इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) समेत दुनियाभर में जुलाई तक होने वाले तमाम खेल टूर्नामेंट्स को टाल या रद्द कर आगे पढ़ें »

ऊपर