निर्भया केस: दोषियों के फांसी का तख्त तैयार,रस्सी का काम शुरु

नई दिल्ली : निर्भया गैंगरेप केस के चारों आरोपियों को फांसी पर लटकाने की तैयारी बिहार की बक्सर सेंट्रल जेल में शुरु हो चुकी है। सूत्रों ने बताया कि 16 दिसंबर तक चारों दोषियों को फांसी दे दी जाएगी। इनमें से अधिकतम वजन वाले कैदी के वजन के अनुसार एक डमी को फांसी देकर देखा गया। डमी में 100 किलो बालू (रेत) भरी हुई थी और डमी को पूरे एक घंटे तक फांसी के तख्त पर लटका कर रखा गया।

बक्सर जेल में बन रही रस्सी

गैंगरेप केस के चारों आरोपियों को फांसी पर लटकाने के लिए बक्सर जेल को मनीला रोप बनाने का ऑर्डर तीन दिन पहले ही मिल चुका है। जेल अधिकारियों ने बताया कि वरिष्ठ अधिकारी ने 10 मनीला रोप बनाने का आदेश दिया है। हालांंकि अधिकारी इस बात से अनजान है कि रस्सी का ऑर्डर किस जेल से आया है। वो बस अपने काम में लगे हुुए हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि यह रस्सी निर्भया मामले के आरोपियों को ही फांसी देने के लिए तैयार की जा रही है। गृह मंत्रालय ने हाल ही में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से उनकी दया याचिका को खारिज करने की अपील की थी। मालूम हो कि चार में से एक आरोपी ने सुप्रीम कोर्ट के द्वारा फांसी की सजा बरकरार रखने के बाद दया याचिका दायर की थी।

तिहाड़ जेल की रस्सी का भी हो सकता है उपयोग

हालांकि जरूरी नहीं है कि आराेपियों को फांसी देने के लिए सारी रस्सी बक्सर से ही मंगवाई जाए क्योंकि तिहाड़ जेल में अभी पांच रस्सी हैं। बक्सर के प्रशासन से बातचीत जारी हैं। सूत्रों की माने तो वहां से 11 रस्सी मंगाई जा सकती है। फांसी देने के लिए जल्लाद को उत्तरप्रदेश,महाराष्ट्र या फिर बंगाल से बुलाया जा सकता है। फांसी का तख्त तिहाड़ की जेल नंबर-3 में स्थित है। केस के दोषी पवन का तबादला मंडोली जेल नंबर-14 से तिहाड़ जेल नंबर-2 में कर दिया गया है जहां अक्षय और मुकेश भी बंद हैं। कैदी विनय शर्मा जेल नबंर-4 में बंद है।

गौरतलब है कि सात साल पहले 16 दिसंबर 2012 को निर्भया के साथ छह दरिंदों ने चलती बस में गैंगरेप किया था। उसमें से एक आरोपी नाबालिग था जो अब छूट चुका है। वहीं एक आरोपी रामसिंह ने तिहाड़ में ही आत्महत्या कर ली थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सीएए और एनआरसी को लेकर मेयर ने बोला हमला

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मेयर और मंत्री फिरहाद हकीम ने सीएए और एनआरसी को लेकर एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला। रविवार को रक्तदान आगे पढ़ें »

ईस्ट वेस्ट मेट्रोः इस महीने शुरु होने की उम्मीदें बढ़ीं

नए जीएम ने मेट्रो परियोजना का किया निरीक्षण सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः साल्टलेक स्टेडियम से साल्टलेक सेक्टर-5 तक मेट्रो परियोजना के शुरू होने की उम्मीदें एक बार फिर आगे पढ़ें »

ऊपर