ट्रंप के स्वागत में बोले मोदी- यह भारत और अमेरिका के संबंधों का नया अध्याय है

indo-america

अहमदाबाद : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में नमस्ते ट्रंप आयोजन को संबोधित किया। इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सबसे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने ट्रंप का स्वागत करते हुए नमस्ते शब्द का अर्थ बताया। मोदी ने कहा कि कार्यक्रम का नाम नमस्ते ट्रंप इसलिए रखा गया है क्योंकि नमस्ते शब्द का अर्थ बहुत गहरा है। दुनिया की सबसे प्राचीनतम भाषाओं में से एक संस्कृत का यह शब्द केवल व्यक्ति को ही नहीं, उसके भीतर व्याप्त देवत्व को भी नमन करता है।’ इसके साथ ही मोदी ने राष्ट्रपति बनने के बाद ट्रंप की इस पहली भारत यात्रा को भारत और अमेरिका के संबंधों का नया अध्याय बताया है। वहीं, ट्रंप ने अपने संबोधन के दौरान अमेरिका को भारत का सबसे अच्छा मित्र बताया है।

‘पूरा हिंदुस्तान है जोश में’

ट्रंप और उनके परिवार के स्वागत में मोटेरा स्टेडियम से मोदी ने कहा, ‘यह धरती गुजरात की है लेकिन आपके स्वागत के लिए जोश पूर हिन्दुस्तान का है। प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप का यहां होना हमारे लिए सम्मान की बात है। समाज में बच्चों के लिए आपका काम प्रशंसनीय है।’

प्रेसिडेंट ट्रंप का इस दशक में भारत आना, एक बड़ा अवसर है

पीएम मोदी ने कहा कि प्रेसिडेंट ट्रंप का इस दशक में भारत आना, एक बड़ा अवसर है. क्योंकि हम पूरी दुनिया की शांति, विकास और सुरक्षा में एक प्रभावी योगदान दे सकते हैं। पीएम मोदी ने कहा कि वाइट हाउस में जब दीवाली मनाई जाती है तो ट्रंप उसमें शामिल होते हैं। भारत अमेरिका का सबसे भरोसेमंद पार्टनर है। आज भारत की सेना सबसे ज्यादा किसी देश के साथ सैन्य अभ्यास करती है तो वह देश अमेरिका है।

‘दोनों देशों के बीच ‌विश्वास हुआ मजबूत’

पीएम मोदी ने कहा, ‘दो व्यक्ति हों या दो देशों का संबंध, सबसे आवश्यक विश्वास होता है। पिछले कुछ वर्षों में अमेरिका और भारत के बीच विश्वास काफी मजबूत हुआ है। मोदी ने आगे कहा कि मैंने भारत और अमेरिका के इस आपसी विश्वास को मजबूत होते हुए देखा है। जब मैं वाशिंगटन में पहली बार मिस्टर ट्रंप से मिला था तो उन्होंने कहा था कि व्हाइट हाउस में इस समय भारत का सबसे अच्छा दोस्त है। जहां अमेरिका स्वतंत्रता की धरती है वहीं भारत पूरी दुनिया को एक परिवार समझता है। जहां अमेरिका में स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी को महत्व दिया जाता है वहीं, भारत दुनिया के सबसे बड़े स्टेच्यू ऑफ यूनिटी पर गर्व करता है।’

‘भारत का वफादार मित्र रहेगा अमेरिका’ 

वहीं, ट्रंप ने भारत की तारीफ करते हुए कहा कि हमें भारत पर गर्व है और अमेरिका हमेशा भारत का एक वफादार मित्र रहेगा। इस शानदार स्वागत को हम जिंदगीभर याद रखेंगे। उन्होंने मोदी की तारीफ में कहा, ‘प्रधानमंत्री मोदी चाय बेचते थे लेकिन उन्होंने यह साबित किया है कि कठिन परिश्रम से कुछ भी हासिल किया जा सकता है। आपका देश बहुत अच्छा कर रहा है। इतनी विविधताओं के बावजूद भारतीयों की एकता विश्व के लिए मिसाल है।’

प्रधानमंत्री मोदी भारत के लिए अद्भुत हैं

ट्रंप ने कहा, ‘आज भारत तेजी से अपने सपने को पूरा कर रहा है। प्रधानमंत्री मोदी भारत के लिए अद्भुत हैं।’  ट्रंप ने कहा कि मुझे पूरा भरोसा है कि भारत भविष्य में और तेज रफ्तार से आगे बढ़ेगा। भारत ज्ञान की धरती है, यहां की संस्कृति काफी महान है।

विश्व के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में मेरा होना सम्मान की बात है

ट्रंप ने इस दौरान कहा, ‘विश्व के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में मेरा होना सम्मान की बात है’। ट्रंप ने कहा, ‘मेरे दिल में भारत हमेशा महत्वपूर्ण जगह रखेगा। ये मोटेरा स्टेडियम बहुत खूबसूरत है, भारतीय संस्कृति की पूरी झलक सड़क पर देखने को मिली। इस स्टेडियम में जो लाखों लोग मौजूद हैं इंडिया उनके दिलों में धड़कता है।

पाकिस्तान को ट्रंप की सीधी चेतावनी

ट्रंप ने आगे कहा, ‘कट्टर इस्लामिक आतंकवाद से अपने नागरिकों को बचाने के लिए हम दोनों साथ मिलकर काम करेंगे। हम भारत के साथ व्यापारिक समझौता करना चाहते हैं, आधुनिक एयरक्राफ्ट देना चाहते हैं। हम आतंक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर रहे हैं। अमेरिका ने पाकिस्तान पर भी दबाव बनाया है। पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई करनी होगी, हर देश को अपनी सुरक्षा का अधिकार है।’ बता दें कि इस कार्यक्रम के बाद ट्रंप अपनी पत्नी के साथ ताज का दीदार करने आगरा के लिए रवाना हो गए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

2011 विश्‍व कप : धोनी के विजयी छक्के को ज्यादा त्वज्जो देने से गंभीर नाराज, कहा- पूरी टीम की वजह से बने थे विश्व चैम्पियन

नयी दिल्‍ली : पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर 2011 के वर्ल्ड कप फाइनल में महेंद्र सिंह धोनी के विजयी छक्के को ज्यादा त्वज्जो देने से आगे पढ़ें »

मूडीज इन्वेस्टर्स ने बैंकिंग सेक्टर के लिए अनुमान स्थिर से नेगेटिव किया

नई दिल्ली : देश में कोरोना के प्रसार को देखते हुए मूडीज इन्वेस्टर्स ने भारतीय बैंकिंग सिस्टम के लिए अपने अनुमान को स्थिर से बदल आगे पढ़ें »

ऊपर