बाहुबली विधायक अनंत सिंह ने दिल्ली में किया सेरंडर

ANANT-SINGH

पटना : बिहार के मोकामा से बाहुबली विधायक अनंत सिंह ने शुक्रवार को दिल्ली के साकेत कोर्ट में सरेंडर कर दिया है। बता दें कि आर्म्स एक्ट मामले में वो पिछले कुछ दिनों से फरार चल रहे थे। अनंत के बाढ़ में लदमा स्थित घर से पुलिस ने 16 अगस्त को छापा मारकर एक एके-47 राइफल, दो ग्रेनेड और गोलियां बरामद की थी। इस मामले में कार्रवाई के तहत 17 अगस्त की रात पुलिस ने अनंत के पटना स्थित आवास पर छापा मारा। लेकिन वह वहां से लापता हो गए थे। इसके बाद से लगातार पुलिस इस आरोपी की खोजबीन कर रही थी और फरार होने की वजह से उस पर कानून का शिकंजा कसता जा रहा थ‍ा। अब अनंत को पटना लाने के लिए पुलिस की एक टीम दिल्‍ली के लिए रवाना हो गई है।

पुलिस के सामने सरेंडर नही करेंगे

गौरतलब है कि फरार रहने के दौरान अनंत ने तीन वीडियो जारी किए ‌थे। अनंत ने गुरुवार को तीसरा वीडियो जारी कर पुलिस के सामने चुनौती खड़ी कर दी। वीडियो में उन्होंने कहा था कि वो पुलिस के सामने किसी भी कीमत पर सरेंडर नहीं करेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस ने मेरे घर पर हथियार रखवाए थे। उन्होंने यह भी कहा था कि पुलिस की साजिश है कि मेरे हाथ में हथियार रखकर गिरफ्तारी दिखाए।

साजिश रचकर हथियार रखवाया गया

अपने नए वीडियो में अनंत ने पटना पुलिस के ऊपर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें पता चल गया है कि ‘राज्य की सत्ताधारी जदयू के सांसद ललन सिंह, मंत्री नीरज कुमार और अपर पुलिस अधीक्षक (एएसपी) लिपि सिंह ने मेरे खिलाफ साजिश रचकर एक रिश्तेदार के जरिए घर मे हथियार रखवाए थे।’

दर्ज करवाया गया आरोप

अनंत पर यूएपीए की धारा-13, विस्फोटक अधिनियम और आईपीसी की धारा 414, 120 बी के तहत बाढ़ थाने में केस दर्ज किया गया। हाल में संसद ने यूएपी एक्ट में संशोधन किया है। संशोधन के बाद बिहार में अनंत पहले आरोपी हैं।

पहले भी जा चुके है दूसरे मामले में जेल

मालूम हो कि बाढ़ के पुट्टुस यादव मर्डर केस में अनंत 23 जून 2015 को गिरफ्तार हुए थे। इस मामले में मिली जानकारी के अनुसार 17 जून की रात बाढ़ से चार युवकों को अगवा किया गया था। तीन तो वापस आ गए थे, लेकिन चौथे युवक पुट्टुस यादव की लाश लदवांपाल इलाके से मिली थी। पुट्टुस यादव मर्डर केस में विधायक का नाम उछला था। गिरफ्तार लोगों की गवाही के आधार पर अनंत को धर दबोचा गया। पुलिस ने जब अनंत के घर में छापा मारा था तो उस समय वहां से उन्हें खून से सना कपड़ा और प्रतिबंधित हथियार मिले थे। बता दें कि अनंत के घर से पुलिस ने इंसास राइफल की 6 खाली मैगजीन और बुलेटप्रूफ जैकेट बरामद किया था।

पुलिस पकड़ने में रही नाकाम

पिछले सात दिनों से अनंत सिंह की टोह में लगी पुलिस ने अनंत को गिरफ्तार करने के इरादे से बिहार के कई कोर्ट परिसर के आसपास सिविल वर्दी में कई पुलिसवालों को तैनात कर रखा था। अनंत कोर्ट में सरेंडर करेंगे इसको लेकर भी सस्पेंस बरकरार था इसलिए बाढ़, आरा से लेकर पटना कोर्ट के बाहर पुलिस की नजरें बनी हुई थीं। लेकिन अनंत पुलिस के हत्थे नहीं चढ़े और आखिरकार दिल्ली के साकेत कोर्ट में सरेंडर कर दिया।

बाहुबली नेता और नीतीश कुमार के करीबी

अनंत की गिनती बिहार के बाहुबली नेताओं में होती है। नीतीश के करीबी माने जाने वाले इस विधायक ने 2005 में पहली बार और 2010 में दूसरी बार जनता दल यूनाईटेड (जदयू) के टिकट से विधायक पद हासिल किया। 2015 के चुनाव से पहले हत्या के एक मामले में जेल जाने के चलते जदयू ने उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया। इस बार उन्होंने जेल से ही चुनाव लड़ा और निर्दलीय विधायक बने।

शेयर करें

मुख्य समाचार

france

फ्रांस में विदेशी इमाम और मुस्लिम शिक्षकों पर लगा प्रतिबंध, राष्ट्रपति बोले- ये कट्टरता और नफरत फैलाते हैं

पेरिस : फ्रांस के सरकार ने बुधवार को विदेशी इमामों और मुस्लिम शिक्षकों के देश में आने पर प्रतिबंध लगा दिया है। राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों आगे पढ़ें »

children

भारत बच्चों के स्वस्थ एवं खुशहाल जीवन के मामले में 131वें स्थान पर

संयुक्त राष्ट्र : संयुक्त राष्ट्र समर्थित एक रिपोर्ट आई है जिसके मुताबिक संवहनीयता सूचकांक (सस्टेनेबिलीटी इंडेक्स) के मामले में भारत 77वें स्थान पर है और आगे पढ़ें »

ऊपर