अपनी ही हेलिकॉप्टर को मिसाइल से गिराना गलती, दोषियों पर होगी कार्रवाई : वायुसेना प्रमुख

air

नई दिल्ली : वायुसेना प्रमुख राकेश कुमार भदौरिया ने शुक्रवार को कहा कि 27 फरवरी को श्रीनगर में वायु सेना द्वारा अपनी ही एमआई-17 हेलिकॉप्टर को मिसाइल हमले में मार गिराना एक बहुत बड़ी गलती थी। उन्होने कहा, ‘‘वायु सेना मानती है कि यह हेलिकॉप्टर हमारी मिसाइल से ही गिरा और यह एक बहुत बड़ी गलती थी। भविष्य में इस तरह की घटना न हो इसके लिए सभी जरूरी कदम उठाये जायेंगे। ’’ उन्होंने कहा कि इस घटना की जांच के लिए गठित कोर्ट ऑफ इंक्वायरी ने एक सप्ताह पहले ही अपनी रिपोर्ट दी है। इसमें दोषी पाये गये वायु सेना के चार अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की गयी है। उन्होंने आगे कहा कि इस घटना में मृत सभी अधिकारियों को बैटल कैजुल्टी के लाभ दिये जायेंगे।

वायुसेना ने दुश्मन समझकर किया था मिसाइल हमला

बता दें कि पुलवामा आतंकवादी हमले के बाद वायु सेना ने गत 26 फरवरी को पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के निकट स्थित आतंकवादी संगठन जैश ए मोहम्मद के ठिकानों पर सर्जिकल स्ट्राइक की थी। इसके अगले ही दिन पाकिस्तान के विमानों ने भारतीय सैन्य ठिकानों पर हमला करने की कोशिश की लेकिन उन्हें खदेड़ दिया गया। इसी दौरान श्रीनगर से वायु सेना के एम आई-17 हेलिकॉप्टर ने उडान भरी और वायु सेना ने इसे दुशमन का समझ कर बडगाम में मिसाइल हमले में गिरा दिया। इसमें वायु सेना के 6 जांबाज शहीद हो गये और मलबे की चपेट में आकर एक असैनिक की भी मौत हो गयी।

सुरक्षित प्रणाली की व्यवस्‍था के ‌लिए कदम उठाए जा रहे

पाकिस्तानी विमानों के साथ हवा में संघर्ष के दौरान विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को एयर ट्रेफिक कंट्रोल से भेजे गये संदेशों को पाकिस्तान द्वारा ब्लॉक किये जाने से संबंधित सवाल के जवाब में वायुसेना प्रमुख ने कहा,‘‘ मैं केवल इतना ही कहूंगा कि वायु सेना को सुरक्षित प्रणाली मिल जायेगी और हमारे संदेशों को केवल हमारे पायलट ही सुन पायेंगे दुश्मन नहीं सुन पायेगा। ’’ सुरक्षित प्रणाली की व्यवस्था के लिए कदम उठाये जा रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

mukesh ambani

भारत कुछ वर्षों में बनेगा विश्व की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था : अंबानी

नई दिल्ली : भारत दुनिया की तीन सबसे इकोनॉमी में शामिल होगा और देश 'प्रीमियर डिजिटल सोसायटी' बनने की राह पर है। ये बातें 'फ्यूचर आगे पढ़ें »

kejri

केजरीवाल और सिसोदिया को लेकर अमेरिकी दूतावास का बयान- हमें कोई आपत्ति नहीं

नई दिल्ली : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प अपनी पत्नी मेलानिया के साथ भारत पहुंच गए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अहमदाबाद हवाई अड्डे पर गले आगे पढ़ें »

ऊपर