विक्रम साराभाई को कोविंद, नायडू, मोदी ने किया नमन, गूगल ने बनाया

Kovind, Naidu, Modi bowed to Vikram Sarabhai, Google made

नई दिल्ली : भारत के महान अंतरिक्ष वैज्ञानिक डॉ. विक्रम साराभाई की 100वीं जयंती के अवसर पर देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने याद करते हुए उन्हें नमन किया। साथ ही उन्होंने साराभाई के देश को अतंरिक्ष तक पहुंचाने के योगदान को भी सराहा। वहीं गूगल ने उनकी स्‍मृति में डूडल बनाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी है। मालूम हो कि विक्रम साराभाई को भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रम का जनक माना जाता है। बता दें कि उन्होंने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) की स्थापना की थी।

राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने ट्वीट कर कहा

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने डॉ विक्रम साराभाई की जयंती पर कहा कि, वह भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम के जनक तथा महान वैज्ञानिक थे। उनकी 100वीं जयंती पर नमन करता हूं। साथ ही उन्होंने कहा कि वह कई संस्थाओं के जनक तथा वैज्ञानिकों की पीढियों के लिए प्रेरणास्रोत हैं। उनकी सेवाएं तथा विरासत हमारे लिए हमेशा आदर्श बनी रहेंगी। वहीं उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने ट्वीट कर कहा कि देश के महान वैज्ञानिक तथा इसरो के संस्थापक डॉ विक्रम साराभाई की जयंती पर सादर नमन करता हूं। साथ ही नायडू ने कहा कि उन्होंने वैज्ञानिक क्षेत्र में जो योगदान दिया है उसे देश हमेशा याद करेगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा

पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि अंतरिक्ष कार्यक्रम के जनक डॉ विक्रम साराभाई को उनकी जयंती आज पूरा देश याद कर रहा है। साथ ही उन्होंने कहा कि भारतीय विज्ञान और नवाचार में उनका योगदान अतुलनीय है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि विज्ञान के क्षेत्र में साराभाई की योगदान की वजह से आज भारत अंतरिक्ष की बुलंदियों को छू पाया है।

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में कहा कि भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने 1962 में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) की स्थापना का दायित्व महान वैज्ञानिक डॉ. विक्रम साराभाई को सौंपा था। साथ ही उन्होंने कहा कि साराभाई भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रमों तथा कई बडे़ संगठनों के संस्थापक थे, उनकी 100वीं जयंती पर नमन करता हूं। इसके अलावा राहुल ने कहा कि उनके दिखाए गए मार्ग पर चलकर आज भारत अंतरिक्ष तक पहुंच पाया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोलकाता में लॉजिस्टिक के लिए विश्व बैंक तैयार कर रहा मास्टर प्लान : अमित मित्र

परियोजना की​ लागत करीब 300 मिलियन डॉलर कोलकाता : कोलकाता मेट्रोपॉलिटन एरिया में जल्द ही लॉजिस्टिक के क्षेत्र में बड़ी संभावनाएं सामने आने वाली हैं। इसकी आगे पढ़ें »

अफवाहों पर ध्यान ना दें, हम सब एक हैं – विजयवर्गीय

कोलकाता : भाजपा के सांगठनिक चुनाव काे लेकर शनिवार को माहेश्वरी भवन में भाजपा की अहम बैठक की गयी। इस बैठक में भाजपा के राष्ट्रीय आगे पढ़ें »

ऊपर