कश्मीर जितना पाकिस्तान के लिए अहम, उतना ही तुर्की के लिए भी : तुर्की राष्ट्रपति

turki

नई दिल्ली : तुर्की के राष्ट्रपति रिसेप तैयप एर्दोगान ने कश्मीर मामले में टांग अड़ाते हुए कहा कि यह हमारे लिए भी उतनी ही अहमियत रखता है जितनी पाकिस्तान के लिए। पाकिस्तानी संसद के दोनों सदनों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि कश्मीर में जुल्म हो रहा है और वो चुप नहीं रहेंगे। साथ ही उन्होंने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान को बिना शर्त समर्थन देने का वादा भी कर दिया। एर्दोगान का पूरा भाषण इस्लाम और मुसलमान के चारों ओर घूमता रहा। उन्होंने कहा कि कोई जमीन पर खींची हुई सीमा इस्लाम मानने वालों को बांट नहीं सकती।

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप पर भी साधा निशाना

एर्दोगान ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को भी आड़े हाथो लिया और कहा, मध्य-पूर्व में अमेरिका का पीस प्लान दरअसल आक्रमणकारी नीयत है। जहां भी मुसलमान मारे जा रहे हैं वहां मुस्लिम देशों को एकजुट होने की जरूरत है। इतना ही नहीं आतंकवाद के जन्मदाता पाकिस्तान को उन्होंने इसका सबसे बड़ा भुक्तभोगी बताया। इस दौरान एर्दोगान ने कहा कि वो फाइनेन्सियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) की बैठक में भी बिना शर्त पाकिस्तान का समर्थन करेंगे। एर्दोगान ने पाकिस्तान को अपना दूसरा घर बताकर इमरान को खुश कर दिया।

आपका दर्द मेरा दर्द है

एर्दोगान ने कहा, आपका दर्द मेरा दर्द है। हमारी दोस्ती प्यार और सम्मान पर आधारित है। पाकिस्तान तरक्की की तरफ है और ये कुछ दिनों में नहीं हो सकता। इसमें वक्त लगेगा और तुर्की इसमें सहयोग करता रहेगा। राष्ट्रपति ने कहा कि वो पाक संसद में आकर अपनो के धन्य पा रहे हैं। बता दें कि 2016 में भी एर्दोगान पाकिस्तानी संसद को संबोधित कर चुके हैं। इससे पहले इमरान खान ने खुद एर्दोगान की गाड़ी चलाकर उन्हें राष्ट्रपति भवन तक ले गए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पंचायत कार्यालय, बैंक व तृणमूल कार्यालय के सामने भारी संख्या में बम बरामद

बोलपुर (बीरभूम) : निगम चुनाव के पहले बीरभूम जिले के बोलपुर स्थित सियान मुलुक ग्राम में फिर ताजा बमों की बरामदगी से इलाके में हलचल आगे पढ़ें »

माध्यमिक में दूसरे दिन भी प्रश्नपत्र वायरल

- परीक्षा हॉल में ही छात्र बना रहा था प्रश्नपत्र का टिकटॉक, रंगे हाथ पकड़ाया सन्मार्ग संवाददाता मालदह/कोलकाता : माध्यामिक की परीक्षा के द्वितीय पेपर इंगलिश के आगे पढ़ें »

ऊपर