असमी लोगों की सुरक्षा के लिए हूं प्रतिबद्ध- प्रधानमंत्री मोदी

नयी ‌दिल्ली : राज्यसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक को मंजूरी प्राप्त हो गई है। इस विधेयक के खिलाफ असम में कड़ा विरोध प्रदर्शन जारी है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट के जरिए असम के लोगों से अनुरोध किया है कि वे इस विधेयक को लेकर चिंतित न हों। उन्होंने ट‌्विटर पर लिखा, ‘मैं असम के अपने भाईयों और बहनों को यह आश्वस्त करता हूं कि नागरिकता संशोधन विधेयक के पारित हो जाने के बाद चिंता की कोई बात नहीं। मैं उन्हें आश्वस्त करना चाहता हूं कि ‌आपके अधिकारों, विशेष पहचान और बेहतरीन संस्कृति को आपसे कोई नहीं छीन सकता। वह लगातार समृद्ध और विकसित होती रहेगी।’ इसके साथ ही उन्होंने लिखा कि ‘केंद्र सरकार और मैं असमी लोगों के राजनैतिक, भाषायी, सांस्कृतिक और भूमि अधिकारों की क्लाॅज 6 की मूल भावना के तहत सांवैधानिक सुरक्षा के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं।’

विरोध प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा

मालूम हो कि देश के पूर्वोत्तर राज्यों में राज्यसभा में पारित नागरिकता संशोधन विधेयक का जोरदार विरोध प्रदर्शन जारी है। बुधवार को असम और त्रिपुरा में कई स्‍थानों पर जारी व‌िरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा देखी गई जिसमें कई लोगों के घायल होने की खबरें सामने आ रही हैं। प्रशासन ने फिलहाल इंटरनेट और संदेश भेजने की अन्य सुविधाओं पर रोक लगा दी है ताकि किसी भी तरह की अफवाह न फैलायी जा सके। साथ ही जनजीवन व रेल सेवाएं भी प्रभावित हुई हैं। प्रदर्शन व हिंसक घटनाओं के मद्देनजर स्‍थानीय नेताओं के आवास के बाहर मंगलवार दोपहर से ही बड़ी तादात में सुरक्षाबल तैनात हैं। बता दें कि पूर्वोत्तर छात्र संगठनों द्वारा मांग की जा रही है कि इस विधेयक को खारिज कर दिया जाए।

विधेयक के खिलाफ दायर होगी याचिका

वहीं, ‘इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग’ ने नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ गुरुवार को उच्चतम न्यायालय में याचिका दायर करने का फैसला लिया हैै। संगठन के अनुसार यह बिल संविधान के ‌खिलाफ है और इसे जल्द रद्द किया जाना चाह‌िए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आ​ज से भारी बारिश की संभावना

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : सोमवार को रात भर बारिश में उत्तर कोलकाता के कई इलाकों में जलजमाव हो गया। वहीं मंगलवार को भी कोलकाता समेत दक्षिण आगे पढ़ें »

ऊपर