भारत-चीन समिट से पहले कश्मीर पर चीन पलटा, कहा- मसला द्विपक्षीय तरीके से हल होना चाहिए

india chaina flag

नई दिल्ली : चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग 11 अक्टूबर को भारत के 2 दिवसीय दौरे पर आएंगे। जहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ उनकी दूसरी अनौपचारिक शिखर वार्ता होगी। विदेश मंत्रालय ने बुधवार को यह घोषणा की। मंत्रालय ने कहा कि ये शिखर वार्ता दोनों नेताओं को द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक महत्व के व्यापक मुद्दों पर बातचीत जारी रखने का अवसर प्रदान करेगी। शिखर वार्ता चेन्नई के समीप प्राचीन तटीय शहर मामल्लापुरम में होगी। वहीं जिनपिंग की प्रस्तावित भारत यात्रा से पहले चीन ने कश्मीर मसले पर अपना रुख बदला है। चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा कि इस मसले को द्विपक्षीय तरीके से हल किया जाना चाहिए। सूत्रों के अनुसार, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की भारत यात्रा के दौरान किसी समझौते, किसी सहमति ज्ञापन अथवा संयुक्त बयान पर हस्ताक्षर किए जाने की संभावना नहीं है, क्योंकि यह बैठक अनौपचारिक होगी। जिनफिंग के साथ उनके विदेश मंत्री और कम्यूनिस्ट पार्टी के सीनियर नेता भी आएंगे।

दोनों देशों के विकास साझेदारी पर होगा विचार विमर्श

विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री के आमंत्रण पर ‘पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना’ के प्रमुख शी जिनपिंग अनौपचारिक शिखर वार्ता के लिए 11 -12 अक्टूबर 2019 को चेन्नई में होंगे।’’ शिखर वार्ता चेन्नई के समीप प्राचीन तटीय शहर मामल्लापुरम में होगी। मंत्रालय ने कहा कि शिखर वार्ता के दौरान दोनों देश भारत-चीन विकास साझेदारी को गहरा करने पर विचार विमर्श करेंगे। वहीं चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने मंगलवार को पत्रकार सम्मेलन में जिनपिंग के दौरे के बारे में कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की। वहीं चीनी अधिकारियों का कहना है कि जिनपिंग की भारत यात्रा के बारे में बुधवार को दिल्ली और बीजिंग में एक साथ घोषणा की जाएगी।

दोनों ही देश मुख्य विकासशील और उभरते हुए बाजार : चीन

गेंगु शुआंग ने कहा- चीन एवं भारत दोनों ही मुख्य विकासशील और उभरते हुए बाजार हैं। उन्होंने बताया कि गत वर्ष वुहान में हुए अनौपचारिक सम्मेलन के बाद से दोनों देशों के द्विपक्षीय रिश्तों को एक अच्छी गति प्राप्त हुई। साथ ही उन्होंने कहा कि भारत और चीन ने आपसी मतभेदों को सुलझाते हुए सहयोग को बढ़ावा दिया है और इसके लिए अच्छा वातावरण बना रहे हैं।

जिनपिंग की भारत यात्रा से पहले चीन पहुंचे पाकिस्तानी प्रधानमंत्री

जिनपिंग की भारत यात्रा से पहले ही पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान चीन पहुंचे। इस दौरान जब गेंग शुआंग से सवाल किया गया कि चीन और पाकिस्तान के नेताओं की मुलाकात में कश्मीर मुद्दे पर चर्चा होगी तो जवाब में गेंग ने कहा- चीन का रुख यह है कि कश्मीर का मसला ‌‌द्विपक्षीय तरीके से हल होना चाहिए। उन्होंने कहा कि चीन का कश्मीर पर नजरिया हमेशा से साफ रहा है। चीन चाहता है कि भारत और पाकिस्तान कश्मीर मामले को बातचीत से हल करें।

अनुच्छेद 370 पर चीन ने किया था विरोध

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के हटाए जाने के बाद चीन ने भारत का विरोध किया था। चीन ने लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाए जाने पर ऐतराज जताते हुए कहा था कि वहां के क्षेत्र पर बीजिंग का अधिकार है। पहले चीन ने कहा था कि कश्मीर मसला संयुक्त राष्ट्र चार्टर और सुरक्षा परिषद के संकल्प के मुताबिक पाक और भारत के बीच बातचीत से हल होना चाहिए।

महाबलीपुरम में होगी शिखर वार्ता

सूत्राें के अनुसार चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच चेन्नई के महाबलीपुरम में दूसरी अनौपचारिक बैठक होने वाली है। जिनपिंग शुक्रवार को 1.30 बजे दोपहर चेन्नई पहुंचेंगे। प्रधानमंत्री से मुलाकात के दौरान करीब 24 घंटे में जिनपिंग मामल्‍लापुरम के 3 प्रसिद्ध स्मारकों का दौरा करेंगे। करीब एक घंटे तक सांस्कृतिक कार्यक्रम में शामिल होंगे। साथ ही दोनों नेताओं के बीच द्विपक्षीय बैठकें भी होंगी। चीन के राष्ट्रपति के आगमन के दौरान लगभग 10 से 15 मिनट तक हवाई अड्डे पर घरेलू या अंतरराष्ट्रीय विमानों का परिचालन नहीं होगा। इसको लेकर विमान कंपनियों को अपनी उड़ानों के समय को पुनर्निधारित करने की सलाह दी गयी है। बताया जा रहा है कि चीन के राष्ट्रपति 12 अक्टूबर को सुबह 9.00 बजे तटीय शहर रवाना हो जाएंगे। यहां पर वह प्रधानमंत्री मोदी के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। मोदी के साथ भोजन करने के बाद जिनपिंग 13.15 बजे चेन्नई लौट आएंगे और इसके बाद अपराह्न 14:20 चीन रवाना हो जाएंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

भारत-पाक क्रिकेट संबंध दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों की मंजूरी से जुड़ा विषय : गांगुली

भारत-पाकिस्तान के बीच पिछली द्विपक्षीय सीरीज 2012 में हुई थी नयी दिल्‍ली : भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के भावी अध्यक्ष सौरव गांगुली ने भारत- पाकिस्तान आगे पढ़ें »

डेनमार्क ओपन : सिंधू, समीर और प्रणीत प्री क्वार्टरफाइनल में हारे

ओडेंसे : विश्व चैंपियन भारत की पीवी सिंधू,समीर वर्मा और बी साई प्रणीत गुरुवार को डेनमार्क ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के प्री क्वार्टरफाइनल में हारकर बाहर आगे पढ़ें »

ऊपर