भाजपा ने कहा- महाराष्ट्र में नही बनाएंगे सरकार

Fadnavish

मुंबई : महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर रविवार को भारतीय जनता पार्टी ने स्पष्ट कर दिया कि वह सरकार का गठन नहीं करेगी। सीएम देवेंद्र फडणवीस ने अपने आवास पर पार्टी की कोर कमेटी की बैठक के बाद राजभवन जाकर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की। इस दौरान फडणवीस ने सरकार गठन से यह कहकर इंकार कर दिया कि उनकी पार्टी के पास बहुमत जुटाने लायक संख्या नहीं हैं। बता दें कि शनिवार को ही राज्यपाल ने बीजेपी को सरकार गठन के लिए न्योता दिया था। भाजपा के पास बहुमत साबित करने के लिए 11 नवंबर तक का वक्त था। रविवार को भाजपा विधायकों की बैठक हुई। इसके बाद महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि हम सरकार नहीं बनाएंगे।

शिवसेना अगली रणनीति की घोषणा करेगी

वहीं शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि यदि महाराष्ट्र में कोई और सरकार गठित नहीं कर पाता है तो उनकी पार्टी अपनी अगली रणनीति की घोषणा करेगी। उन्होंने साथ ही कहा कि राजनीति उनके दल के लिए कोई कारोबार नहीं है। राउत ने किसी व्यक्ति या पार्टी का नाम लिए बगैर कहा कि ‘‘अजेय’’ होने का बुलबुला फूट गया है और सरकार गठन के लिए नेता को ‘‘खरीदने’’ का घमंड राज्य में अब काम नहीं करता।

शिवसेना ने राज्यपाल के फैसले का स्वागत किया

उन्होंने राज्य में सरकार गठित करने के लिए भाजपा को आमंत्रित करने के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के निर्णय का स्वागत किया। उन्होंने कहा, ‘‘हम भाजपा को आमंत्रित करने के राज्यपाल के फैसले का स्वागत करते हैं। हमें समझ नहीं आता कि यदि भाजपा को बहुमत का भरोसा था तो उसने (परिणाम घोषित होने के) 24 घंटे बाद ही दावा क्यों नहीं किया।’’

सभी पार्टियों ने की बैठक

महाराष्ट्र के ज्यादातर कांग्रेस विधायक जयपुर में डेरा ड़ाले हुए हैं। मल्लिकार्जुन खड़गे ने उन विधायकों के साथ एक रिसोर्ट में बैठक की। वहीं, मुंबई के होटल रिट्रीट में उद्धव ठाकरे ने शिवसेना के 56 विधायकों के साथ बैठक की। शरद पवार की पार्टी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने भी सरकार बनाने के लिए शिवसेना के साथ आने के संकेत दिए हैं। राकांपा ने राजनीतिक स्थिति पर चर्चा के लिए 12 नवंबर को विधायकों की बैठक बुलाई है।

शिवसेना के साथ नहीं जाएगी कांग्रेस
महाराष्ट्र कांग्रेस ने विधायक दल का नेता चुनने का फैसला कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी पर छोड़ दिया है। साथ ही पार्टी ने तय है कि सरकार बनाने के लिए वह शिवसेना के साथ नहीं जाएगी। जयपुर में रविवार को हुई महाराष्ट्र कांग्रेस विधायक दल की बैठक में यह फैसला लिया गया।

शरद पवार ने कहा था कि विपक्ष में बैठेंगे

राकांपा प्रमुख शरद पवार ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि बीजेपी-शिवसेना राज्य में सरकार बनाएं। हमें जनता ने विपक्ष के लिए चुना है, हम विपक्ष में ही बैठेंगे। भाजपा-शिवसेना को लोगों का जनादेश मिला है। हमारा जनादेश विपक्ष की भूमिका निभाना है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

”राम मंदिर निर्माण में अब कोई बाधा नहीं”- विहिप अध्यक्ष

इंदौर (मध्यप्रदेश) : शीर्ष न्यायालय द्वारा गुरुवार को अयोध्या मामले में दायर पुनर्विचार याचिकाएं खारिज करने के निर्णय का विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के अंतरराष्ट्रीय आगे पढ़ें »

सबसे सस्ती इलेक्ट्रिक बाइक होगी लॉन्च, फुल चार्ज में दौड़ेगी 150 किमी

नई दिल्ली : इलेक्ट्रिक स्कूटर तथा बाइक बनाने वाली कंपनी ओकिनावा भारत में कम कीमत वाली नई इलेक्ट्रिक बाइक लॉन्च करने जा रही है। कंपनी आगे पढ़ें »

ऊपर