पुलिस के बाद अब प्रदर्शन पर बैठे वकील, पेट्रोल छिड़क आत्मदाह की कोशिश

Lawyers strike

नई दिल्ली : दिल्ली की तीस हजारी अदालत के परिसर में पार्किंग को लेकर पुलिस और वकील के बीच हुई झड़प के मामले में बुधवार को दिल्ली उच्च न्यायालय में सुनवाई होनी है। इसा बीच पुलिस और वकीलों का आपसी विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। पहले दिल्ली पुलिस धरने पर थी और अब वकीलों ने हंगामा शुरू कर दिया है। रोहिणी कोर्ट के बाहर वकील प्रदर्शन करते हुए दिल्ली पुलिस के खिलाफ नारेबाजी पर उतर आए हैं। इसके साथ ही दिल्ली की सभी जिला अदालतों में वकील हड़ताल पर बैठ गए हैं और कामकाज ठप्प पड़ा है। गौरतलब है कि दिल्ली उच्च न्यायालय द्वारा इस मामले में बार काउंसिल ऑफ इंडिया को नोटिस जारी किया गया था।

वकील ने की आत्मदाह की कोशिश

इस प्रदर्शन के बीच रोहिणी कोर्ट के बाहर एक वकील ने खुदपर पेट्रोल छिड़का और आत्मदाह की कोशिश की। वकील का नाम आशीष चौधरी है। उसने कहा कि एेसा वे अपने आत्मसम्मान के लिए कर रहे हैं।

किरण बेदी ने किया ट्वीट

दिल्ली पुलिस और वकील के आपसी विवाद के बीच देश की पहली महिला आईपीएस और वर्तमान समय में पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी ने ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा कि इस बात को नागरिक न भूलें कि अधिकार और उत्तरदायित्व एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। चाहे हम जो भी हों और जहां भी हों। अगर हम सभी कानून का पालन करेंगे तो कोई विवाद नहीं होगा।

मान ली गयीं पुलिस की मांगें

गौरतलब है कि मंगलवार को दिल्ली पुलिस के जवानों ने पुलिस हेडक्वार्टर पर प्रदर्शन किया, जो कि सुबह 10 बजे से शुरू हुआ था। बता दें कि हड़ताल पर बैठी पुलिस को मनाने की तमाम कोशिशें की गयी थीं। सात बार पुलिस अधिकारी हड़ताली पुलिसवालों के बीच आए। ज्वाइंट सीपी, स्पेशल सीपी के साथ-साथ पुलिस कमिश्नर को खुद आना पड़ा, लेकिन पुलिस वाले तभी माने जब उनके मांगों पर मुहर लगी। पुलिस जवानों द्वारा जो मांग की गयी थी उनमें पुलिस वेलफेयर एसोसिएशन बनाने, पुलिस पर हमला हो तो फौरन कार्रवाई, पुलिसवालों का निलंबन वापस करने, दोषी वकीलों के खिलाफ केस दर्ज करने और दोषी वकीलों का लाइसेंस रद्द करने की मांग शामिल थी। इन सभी मांगों को मान लिया गया है।

उपराज्यपाल से मिले कमिश्नर

इस बीच दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक और ज्वॉइंट कमिश्नर राजेश घटना की जानकारी देने के लिए उप राज्यपाल अनिल बैजल खुराना से मिलने पहुंचे हैं। दिल्ली पुलिस के सीनियर अफसर भी उनके साथ हैं। पुलिस और वकीलों के बीच विवाद को सुलझाने के प्रयास जारी है। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट में वकील वरुण ठाकुर ने इस मामले में दिल्ली पुलिस कमिश्नर पटनायक को लीगल नोटिस भेजा है, जिसमें आरोप लगाया गया है कि पुलिस के आला अधिकारियों ने वकीलों के खिलाफ आपत्तिजनक बयानबाजी की थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पीसीबी को नहीं मिल रहा कोई प्रायोजक

कराची : कोरोना वायरस महामारी के आर्थिक दुष्प्रभावों का सामना पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को भी करना पड़ रहा है जिसे इंग्लैंड में मौजूद राष्ट्रीय टीम आगे पढ़ें »

लगातार सातवीं जीत से रीयाल मैड्रिड ला लिगा खिताब के करीब

मैड्रिड : सर्गियो रामोस के दूसरे हाफ में पेनल्टी पर किये गये गोल की मदद से रीयाल मैड्रिड ने एथलेटिक बिलबाओ को 1-0 से हराकर आगे पढ़ें »

कड़ी मेहनत के बदौलत तेज गेंदबाजी में मजबूत हुआ भारत : गांगुली

टी20 विश्व कप का टलना तय, ऑस्ट्रेलियाई टीम को इंग्लैंड सीरीज के लिये कहा गया

यूएई और श्रीलंका के बाद अब न्यूजीलैंड ने आईपीएल की मेजबानी का ऑफर दिया

गृहमंत्रालय ने कॉलेज और प्रोफेशनल संस्थानों को फाइनल ईयर की परीक्षा कराने को दी मंजूरी

बंगाल में कोरोना का कहर जारी आज फिर आये 800 के पार मामले, 22 की हुई मौत

डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के सपनों का बंगाल बनाना, उन्हें होगी सच्ची श्रद्धांजलि : राज्यपाल धनखड़

कोलकाता के नजदीक सौर पेड़ से रौशन होंगी पगडंडियां, पार्क

बंगाल में बने ऐप को ममता ने किया पेश कहा – यह देशभक्ति की पहचान

ऊपर