65 साल में दूसरा सबसे बड़ा प्री-मानसून सूखा- मौसम विभाग

नयी दिल्ली: भीषण गर्मी और लू के थपेड़ों के बीच लोगों के लिए जो एक बड़ी समस्या खड़ी हो गई है वो है सूखे की। देश को इस वक्त मानसून का इंतजार है। अनुमान के मुताबिक केरल में 6 जून को मॉनसून दस्तक दे सकता है। अब तक महज 99 मिलीमीटर बारिश ही हुई है। भारतीय मौसम विभाग के डेटा के मुताबिक बीते 65 सालों में यह दूसरा मौका है, जब इस तरह से प्री-मॉनसून सूखे की स्थिति पैदा हुई है। 1954 के बाद से ऐसा दूसरी बार हुआ है, जब प्री-मॉनसून में इतनी कम वर्षा हुई हो। तब देश में 93.9 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई थी। इसके बाद 2009 में मार्च, अप्रैल और मई के दौरान 99 मिलीमीटर बारिश हुई थी। फिर 2012 में यह आंकड़ा 90.5 मिलीमीटर का था और इसके बाद अब 2019 में 99 मिलीमीटर बारिश हुई है।

वर्षा का सबसे कम औसत मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा और महाराष्ट्र के ही विदर्भ इलाके में हुआ है। इसके अलावा कोंकण-गोवा, गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ इलाके में भी यही स्थिति देखने को मिली है। तटीय कर्नाटक, तमिलनाडु और पुदुचेरी जैसे इलाकों में भी प्री-मॉनसून बारिश की कमी रही। डेटा के मुताबिक पिछली सदी में पश्चिमी भारत में प्री-मॉनसून बारिश में काफी तेजी से गिरावट आई है और महाराष्ट्र में यह समस्या और बढ़ी है।

महाराष्ट्र में बढ़ रहा है प्री-मॉनसून सूखे का संकट
भारतीय मौसम विभाग में क्लाइमेट ऐप्लिकेशन एंड यूजर इंटरफेस के पुलक गुहाठाकुरता ने बताया कि रिसर्च के मुताबिक पिछली सदी में पश्चिमी भारत में प्री-मॉनसून बारिश में काफी तेजी से गिरावट आई है। खासतौर पर महाराष्ट्र में यह समस्या और बढ़ी है। गुहाठाकुरता ने कहा, ‘हालांकि अब तक पूरे देश में इस तरह का ट्रेंड देखने को नहीं मिला है। यह एक तरह से मॉनसून सीजन में बदलाव का पैटर्न है।’
शेयर करें

मुख्य समाचार

akki

एटीएफ चेयरमैन एमएस बिट्टा की बायोपिक की मुख्य भूमिका निभाएंगे अक्षय कुमार

नई दिल्ली : बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार साल 2021 तक के लिए बुक हो गए हैं। अगले साल तक अक्षय की फिल्में एक के बाद आगे पढ़ें »

rawat

जम्मू-कश्मीर में स्‍थापित होगी अलग ‘थिएटर कमान’ : सीडीएस जनरल रावत

नई दिल्ली : प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर में सेना की क्षमता को बढ़ाने के मकसद से अलग 'थिएटर आगे पढ़ें »

ऊपर