जापान में भयंकर तूफान और बाढ़ से 14 लोगों की मौत, एक दर्जन से ज्यादा लापता

japan

तोक्यो : जापान की राजधानी तोक्यो समेत देश के अन्य हिस्सों में भयंकर तूफान ‘हगिबिस’ के आने से आई बाढ़ में अब तक कम-से-कम 14 लोगों की मौत हो चुकी है और एक दर्जन से ज्यादा लोग लापता हैं। केवल 24 घंटे के अंदर ही कुछ जगहों पर 93.5 सेंटीमीटर तक बारिश हुई। वहीं बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने के लिए रविवार को बड़े पैमाने पर बचाव अभियान शुरू किया गया। बता दें कि शक्तिशाली तूफान हगिबीस ने शनिवार को जापान में दस्तक दे दी। तूफान के आने के बाद देश के बड़े हिस्से में भारी बारिश हुई, जिससे बाढ़ आ गई और भूस्खलन की कई घटनाएं भी हुईं। बताया जा रहा है कि चिबा, गुनमा, कनागावा और फुकुशिमा में सबसे ज्यादा तबाही हुई है।

100 से अधिक लोग घायल

तूफान तोक्यो को अपनी चपेट में लेने के बाद उत्तर की ओर बढ़ गया। रिपोर्ट के अनुसार, इस आंधी-तूफान में अब तक करीब 14 लोगों के मारे जाने की खबर है। वहीं राष्ट्रीय प्रसारणकर्ता एनएचके ने बताया कि आपदा में 17 लोग लापता हो गये और 100 से अधिक लोग घायल हो गए। हगिबिस से प्रभावित होने वाले लोगों की संख्या बढ़ रही है। हगिबिस का अर्थ ‘गति’ होता है।

भूस्खलन का खतरा बरकरार

अधिकारियों ने चेतावनी दी कि भूस्खलन का खतरा अभी भी बना हुआ है। तोक्यो क्षेत्र में ट्रेन सेवाएं अधिकांश रूप से रोक दी गई थी, जिन्हें सुबह फिर से शुरू किया गया। हालांकि, अन्य की सुरक्षा जांच चल रही थी। सरकारी आदेशों के तहत लगभग 17,000 पुलिस कर्मी और सैनिक बचाव कार्यों में लगाए गए हैं। सैनिक हेलीकॉप्टर से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा रहे हैं।

रातभर जारी रहा बचाव अभियान

नागानो शहर के आपातकालीन सेवा के एक अधिकारी यासुहिरो यामागुची ने बताया कि ‘रातभर में हमने 427 घरों को खाली कराने और 1,417 लोगों को निकलने के आदेश जारी किए।’ उन्होंने यह भी बताया कि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि इसमें कितने घर प्रभावित हुए हैं। तटीय शहरों में निकासी केंद्र स्थापित किए गए हैं, और हजारों लोगों को प्रभावित क्षेत्रों से निकाला गया। इस भयावह आपदा से जापान में सड़क, रेल व हवाई यातायात काफी प्रभावित हुआ है। जापानी कंपनियों ने 1929 अंतरराष्ट्रीय और घरेलू उड़ानें रद्द कर दी हैं। इसके अलावा तोक्यो में सभी सिनेमाघर, शॉपिंग मॉल और कारखाने बंद कर दिए गए हैं। लोगों को घरों में रहने की सलाह दी गई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ममता की हुंकार : नहीं होने देंगे एनआरसी

सागरदिघी (मुर्शिदाबाद) : राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर राजनीतिक बहस बढ़ती ही जा रही है। बुधवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हुंकार भरते हुए आगे पढ़ें »

डीआरआई का रेड और नोटों की बारिश

कोलकाता : महानगर के डलहौसी इलाके के बेन्टिक स्ट्रीट में बुधवार की दोपहर बाद अचानक एक कामर्शियल बिल्डिंग से नोटों की बारिश होने लगी। घटना आगे पढ़ें »

ऊपर