संयुक्त राष्ट्र : सैयद अकबरुद्दीन बोले – कश्मीर मुद्दे पर पाक जितना नीचे गिरेगा, भारत का कद उतना ऊंचा उठेगा

न्यूयॉर्क : पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान 27 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करने वाले हैं, इस दौरान वह यहां कश्मीर मुद्दा उठाएंगे। इस पर संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने पाक को इशारों ही इशारों में कड़ी चेतावनी दी है। अकबरुद्दीन ने गुरुवार को कहा कि कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान जितना नीचे गिरेगा, भारत का कद उतना ही ऊंचा उठेगा। साथ ही उन्होंने कहा कि पाक जो करना चाहता है, वह उनकी इच्छा है। हमने उन्हें अतीत में आतंकवाद को मुख्यधारा में लाने की कोशिश करते हुए देखा है। लेकिन अब वह नफरत फैलाने वाले भाषण को मुख्यधारा में लाना चाहते हैं, तो यह उनकी मर्जी है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि वह जो जहर उगल रहे हैं, यह बहुत लंबे समय तक काम नहीं करने वाला है।

पीएम मोदी के प्राथमिकताओं के बारे में बताया

अकबरुद्दीन ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74 वें सत्र में प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन की खास बातें और प्राथमिकताओं के बारे में भी बताया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की बहुपक्षीय और द्विपक्षीय व्यस्तताओं और बैठकों के ढेर सारे उदाहरण इस बात को रेखांकित करते हैं कि भारत का कद कितना ऊंचा होगा।

अंतराराष्ट्रीय मंच पर पाक को हार मिली

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान को अंतराराष्ट्रीय मंच पर करारी हार मिल चुकी है, उसके बाद यूरोपीय संघ की ओर से भी कुछ हाथ नहीं लगा। वहीं संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के सदस्य देशों ने भी पाकिस्तान को समर्थन देने से मना कर दिया है। बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव काफी बढ़ गया है। इसके बाद पाक ने भारत के साथ राजनयिक संबंधों को खत्म कर दिया और भारतीय उच्चायुक्त को निष्कासित कर दिया। आपको बता दें कि पाक कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिश कर रहा है। वहीं भारत अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्पष्ट शब्दों में कह चुका है कि कश्मीर हमारा आंतरिक मामला है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

नई दिल्ली : उद्योगपति और टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने खुद को 'एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक' माना है। उन्होंने दर्जनभर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों आगे पढ़ें »

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

modi

पीएम मोदी बोले- राष्ट्र निर्माण का आधार है सावरकर के संस्कार

ऊपर