रविदास मंदिर मामला: प्रियंका गांधी ने कहा,दलितों का अपमान बर्दाश्त नहीं

priyanka gandhi

नई‌ दिल्ली :

राजधानी दिल्ली के तुगलकाबाद इलाके में रविदास मंदिर को तोड़े जाने के मामले ने तूल पकड़ना आरम्‍भ कर दिया है। बुधवार देर रात भड़की हिंसा में भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद के साथ 90 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया गया। चंद्रशेखर की गिरफ्तारी पर सियासत भी शुरू हो गई है। दिल्ली में संत रविदास मंदिर के पुनर्निर्माण की मांग को लेकर दलित संगठनों के प्रदर्शन की पृष्ठभूमि में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को तीखी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त की। उन्होंने कहा कि दलितों की आवाज का ये अपमान बर्दाश्त से बाहर है। यह एक जज्बाती मामला है उनकी आवाज का आदर होना चाहिए।

दलितों का अपमान किया जा रहा है
इस परिप्रेक्ष्य में प्रियंका ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर निशाना साधते हुए कहा कि दलितों का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। उन्होंने इस घटना के विरोध में ट्वीट कर कहा, ‘भाजपा सरकार पहले करोड़ों दलित बहनों-भाइयों की सांस्कृतिक विरासत के प्रतीक रविदास मंदिर स्थल से खिलवाड़ करती है और जब इसके विरोध में देश की राजधानी में हजारों दलित भाई-बहन अपनी आवाज उठाते हैं तो उन पर लाठी बरसाती है। उन पर आंसू गैस के गोले छोड़े जाते हैं और उन्हें गिरफ्तार किया जाता है।’
सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर ढहाया गया मंदिर
बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर दिल्ली विकास प्रधिकरण (डीडीए) ने तुगलकाबाद में संत रविदास का मंदिर ढहा दिया था। आरोप था कि मंदिर सरकारी जमीन पर बना हुआ है। मंदिर ढहाने के बाद से ही बवाल शुरू हो गया। इसके बाद से दिल्ली से लेकर हरियाणा, पंजाब, एमपी और राजस्थान समेत अन्‍य राजयों में मंदिर ढहाए जाने के विरोध में प्रदर्शन शुरू हो गए।
गुस्साई और बेकाबू भीड़ ने किया हमला
बुधवार को देशभर से संत रविदास के भक्‍तों का जत्था दिल्ली पहुंचा। रिपोर्ट के अनुसार, गुस्साई और बेकाबू भीड़ ने मौके पर मौजूद अर्धसैनिक बलों और दिल्ली पुलिस पर अचानक हमला बोल दिया। लाउडस्पीकर से भीड़ को संयम बरतने की बार-बार चेतावनी दी जाती रही। इसके बाद भी भीड़ काबू नहीं आई। प्रदर्शन के बाद तुगलकाबाद में एक बैठक हुई, जिसमें मंदिर को दोबारा से बनाने का निर्णय लिया गया। 5 सितम्बर का दिन निर्माण कार्य शुरू करने के लिए तय किया गया। सोशल मीडिया के द्वारा देशभर में फैले संत रविदास के अनुयायियों को इसकी जानकारी देने की तैयारियां शुरू की जाएगी। सभी अनुयायियों से 5 सितम्बर की सुबह तुगलकाबाद पहुंचने का आह्वान किया गया है।

बता दें कि पुलिस ने गिरफ्तार सभी आरोपियों पर दंगा फैलाने, सरकारी और निजी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का मामला दर्ज किया है। सभी आरोपियों को गुरुवार को साकेत कोर्ट में पेश किया गया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

amitabh

अमिताभ ने जन्म और मृत्यू पर पूछे सवाल, फैन्स ने दिए दिलचस्प जवाब

मुंबई : बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहते हैं। वे हमेशा सोशल मीडिया पर कुछ ना कुछ शेयर करते रहते आगे पढ़ें »

turkey

भारत में नफरत फैलानें की साजिश रच रहा है तुर्की, खूफिया एजेंसियों ने किया सतर्क

नई दिल्ली : गृह मंत्रालय को भेजी एक रिपोर्ट में खुफिया एजेंसियों ने यह दावा किया है कि तुर्की के जेहादी इस्लामिक संगठन भारत में आगे पढ़ें »

कोरोना के कारण घटा वैश्विक विकास दर : मुडीज

nirbhaya

निर्भया मामलेे में जारी हुआ तीसरा डेथ वारंट, 3 मार्च सुबह 6 बजे फांसी का आदेश

marandi

झाविमो का भाजपा में विलय, शाह की मौजूदगी में बाबूलाल मरांडी पार्टी में शामिल

court

शाहीन बाग मामले में शीर्ष न्यायालय ने नियुक्त किया वार्ताकार, सड़क जाम पर जताया ऐतराज

सरकार सुनिश्चित करें कि चीन से आयातित सामानों से भारत को खतरा नहीं : कैट

owesi

महाकाल एक्प्रेस में शिव मंदिर बनाने पर ओवैसी ने जताया ऐतराज, मोदी को याद दिलाया संविधान

rickshaw

रिक्‍शा चालक ने पीएम मोदी को बेटी की शादी में बुलाया, जवाब में बधाई संदेश मिला

congress

मिलिंद देवड़ा ने की केजरीवाल की तारीफ, अजय माकन बोले- पार्टी छोड़नी है तो छोड़ दो

ऊपर