मीडिया की मौजूदगी में ममता से मुलाकात करेंगे हड़ताली डॉक्टर

कोलकाताः देशभर में चल रही डॉक्टरों की हड़ताल के मामले में रोज नए मोड़ आ रहे हैं। बंगाल के डॉक्टरों ने अब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से बातचीत के लिए हां तो कह दिया है, लेकिन एक शर्त के साथ। डॉक्टरों ने कहा है कि ममता से जनहित के लिए की जाने वाली बातचीत किसी बंद कमरे में न होकर मीडिया की मौजूदगी में हो। इस बैठक के बारे में सुनकर ऐसा लगा कि मामला जल्द ही सुलझ जाएगा लेकिन अबतक दोनों में से किसी भी ओर से मुलाकात के स्‍थान या समय को लेकर कोई जानकारी सामनें नहीं आयी है।

मुख्यमंत्री के निमंत्रण को ठुकराया

कुछ दिनों पहले ममता ने डॉक्टरों को काम पर वापस लौटने का अल्टीमेटम दिया था। जिसके बाद डॉक्टरों की नाराजगी और बढ़ गई थी, फिर शुक्रवार और शनिवार को ममता द्वारा बातचीत के लिए दिए गए निमंत्रण को भी डॉक्टरों ने ठुकरा दिया था। उन्होंने कहा कि ममता से मुलाकात को लेकर डॉक्टरों में भय का माहौल है इसलिए उनका कोई भी प्रतिनिधि उनसे नहीं मिलेगा। उन्होंने मांग की थी कि मुख्यमंत्री एनआरएस मेडिकल कॉलेज में खुद आकर डॉक्टरों से बात करें। ‌

गृह मंत्रालय की एडवाइजरी से खफा ममता

बंगाल की चरमरायी व्यवस्‍था के मद्देनजर गृह मंत्रालय ने एडवाइजरी जारी कर राज्य की स्थिति पर ममता से रिपोर्ट मांगी तो मुख्यमंत्री इस बात पर नाराज हो गईं। उन्होंने इसकी प्रतिक्रिया में कहा कि,’ऐसी एडवाइजरी तो उत्तर प्रदेश और गुजरात भेजी जानी चाहिए, जहां कुछ सालों में कई हत्याएं हुई हैं।’ इससे पहले ममता ने दावा किया था कि सचिवालय में कुछ डॉक्टर उनसे मुलाकात के लिए आये थे। लेकिन मुख्यमंत्री के इस दावे को डॉक्टरों ने सिरे से खारिज कर दिया। शनिवार देर रात जूनियर डॉक्टरों के संयुक्त फोरम द्वारा किए गए एक संवाददाता सम्मेलन में कहा गया था कि ‘हम हमेशा से बातचीत के लिए तैयार हैं। अगर मुख्यमंत्री एक हाथ बढ़ाएंगी तो हम अपने दस हाथ बढ़ाएंगे। हम इस गतिरोध के खत्म होने की तत्परता से प्रतीक्षा कर रहे हैं।’

बता दें कि इस मामले पर बंगाल के राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाणी ने ममता बनर्जी को एक पत्र लिखकर चिकित्सकों को सुरक्षा उपलब्ध करवाने का निर्देश दिया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टाला ब्रिज पर डायवर्सन के कारण 100 मिनी बसें चलाएगा परिवहन विभाग

वाहनों के डायवर्सन से यात्रियों को नहीं होगी समस्याः शुभेन्दु अधिकारी कोलकाताः टाला ब्रिज पर बस व भारी वाहनों की पाबंदी के बाद बड़े पैमाने पर आगे पढ़ें »

बीजीबी की कार्रवाई बेवजह, हमने नहीं चलाई एक भी गोलीः बीएसएफ

मुर्शिदाबादः बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के जवानों ने बीएसएफ के जवान को लक्ष्य कर जानबूझकर चलायी थी गोली। यह मानना है सीमा पर तैनात बीएसएफ आगे पढ़ें »

ऊपर