जवाहिरी के वीडियो पर विदेश मंत्रालय ने कहा- ऐसी धमकी पर ध्यान देने की जरूरत नहीं

नई दिल्ली : अल-कायदा प्रमुख अल-जवाहिरी ने बुधवार को ‘कश्मीर को मत भूलना शीर्षक वाली वीडियो को जारी कर कश्मीर में आतंक फैलाने वाले आतंकियों की सराहना की जिसमें आतंकी जाकिर मूसा भी नजर आ रहा है। इस वीडियो पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। कुमार ने गुरुवार को एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि हम ऐसी धमकियां आए दिन सुनते रहते हैं। मुझे नहीं लगता इन्‍हें गंभीरता से लेने ‌की आवश्यकता है। हमारे देश की एकता और अखंडता को बनाए रखने के लिए हमारे सुरक्षाबल और सेनाओं के पास सारे संसाधन उपलब्‍ध हैं।
कश्मीर में आतंकी गतिविधियों को बढ़ाने की मांग
बता दें कि अल-शबाब द्वारा जारी किये गए वीडियो में अल-कायदा प्रमुख अल-जवाहिरी ने ‘कश्‍मीरी मुजाहिदीनों’ से कश्मीर में आतंकी गतिविधियों को बढ़ाने की मांग की है। जवाहिरी ने दावा करते हुए कहा कि भारतीय सेना और सरकार को तंग करने के लिए पाकिस्तान हर किस्म की मदद के लिए राजी है।
थॉमस जॉसलिन ने कही यह बात
अमेरिकी संस्थान फाउंडेशन फॉर डिफेंस ऑफ डेमोक्रेसीज के वॉर जर्नल थॉमस जॉसलिन ने अपने लेख में कहा कि अलकायदा कश्मीर में एक ऐसा संगठन तैयार कर रहा है जो जिहाद को पनाह देकर स्थानीय लोगों को भारतीय सेना के खिलाफ भड़का सके।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी कई वैश्विक मंचों से आतंकवाद के खात्मे के लिए दुनिया भर के देशों से एकजुट होने की अपील कर चुके हैं। वहीं मोदी सरकार जम्मू-कश्मीर से आतंवादियों का सफाया करने की अपनी प्रतिबद्धता भी दोहरा चुकी है। इसके तहत भारतीय सेना घाटी में लगातार आतंकियों को ढ़ेर भी कर रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लोगों में पीओके की आजादी के लिये ‘जुनून’ है : ठाकुर

जम्मू : केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने सोमवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त करने के बाद पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर आगे पढ़ें »

पिछले पांच-छह साल में बढ़े हैं दलितों पर अत्याचार : प्रशांत भूषण

नयी दिल्ली : भीम आर्मी द्वारा आयोजित संवाददाता सम्मेलन में सामाजिक कार्यकर्ता व वकील प्रशांत भूषण ने सोमवार को आरोप लगाया कि पिछले पांच-छह साल आगे पढ़ें »

ऊपर