येदियुरप्पा बोले- न्यायालय का फैसला तत्कालीन अध्यक्ष और सिद्धरमैया की ‘साजिश’ के खिलाफ

yediyurappa

बेंगलुरु : कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने बुधवार को शीर्ष न्यायालय द्वारा विधायको पर दिए गए फैसले का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि न्यायालय द्वारा दिया गया फैसला विधानसभा के तत्कालीन अध्यक्ष केआर रमेश कुमार और कांग्रेस नेता सिद्धरमैया की ‘‘साजिश’’ के खिलाफ आया है। गौरतलब है कि शीर्ष न्यायालय ने कर्नाटक विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष द्वारा 17 विधायकों को अयोग्य ठहराए जाने के फैसले को बुधवार को बरकरार रखा लेकिन साथ ही विधायकों को पांच दिसंबर को उपचुनाव लड़ने की अनुमति भी दे दी।

न्यायालय ने विधानसभा अध्यक्ष के फैसले का यह हिस्सा हटाया

शीर्ष न्यायालय ने विधानसभा अध्यक्ष के फैसले का वह हिस्सा हटा दिया जिसमें कहा गया था कि ये विधायक 15वीं कर्नाटक विधानसभा का कार्यकाल पूरा होने तक अयोग्य ही रहेंगे। येदियुरप्पा ने कहा, ‘‘सारा देश इस फैसले का बेसब्री से इंतजार कर रहा था। पूर्व अध्यक्ष रमेश कुमार ने सिद्धरमैया के साथ मिलकर साजिश रची लेकिन उच्चतम न्यायालय ने इस बारे में स्पष्ट फैसला दिया।’’ उन्होंने विश्वास जताया कि भाजपा सभी 15 सीटों पर जीतेगी।

सभी सीटें जीतने का प्रयास करेंगे

येदियुरप्पा ने कहा, अयोग्य विधायकों को चुनाव लड़ने की अनुमति देने के शीर्ष अदालत के फैसले का स्वागत करते हुए येदियुरप्पा ने कहा कि सभी सीटों को जीतने की तैयारियां शुरू हो गई है। उन्होंने कहा, ‘‘कल से ही हमारे सभी मंत्री और नेता जिम्मेदारी लेंगे। हम सभी सीटों जीतने के प्रयास करेंगे।’’ अयोग्य विधायकों को टिकट देने के बारे में उन्होंने कहा कि इस बारे में आज कोर कमेटी में चर्चा करेंगे और शाम तक फैसला लेंगे।

भाजपा को 15 में से छह सीटें जीतनी होंगी

इन विधायकों को अयोग्य घोषित किये जाने की वजह से 17 में से 15 सीटों के लिये पांच दिसंबर को उपचुनाव हो रहे हैं। उपचुनाव लड़ने के लिए उम्मीदवारों को 11 नवंबर से 18 नवंबर के बीच नामांकन पत्र दाखिल करने होंगे। सत्ता में काबिज रहने के लिए भाजपा को 15 में से कम से कम छह सीटें जीतनी होंगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टोक्‍यों ओलंपिक में खिलाड़ियों का पूरा समर्थन करेगा देश : कोविंद

नयी दिल्ली : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को कहा कि 24 जुलाई से नौ अगस्त तक आयोजित 2020 टोक्यो ओलंपिक में देश का प्रतिनिधित्व आगे पढ़ें »

बुकर पुरस्कार विजेता जोखा अल हार्सी पहुंचीं जयपुर साहित्य महोत्सव में, लेखन चुनौतियों का जिक्र किया

जयपुरः ओमान की लेखिका एवं बुकर पुरस्कार विजेता जोखा अल हार्सी के लिए लेखन का सबसे दिलचस्प और चुनौतीपूर्ण पहलू समाज में मौजूद अनसुनी और आगे पढ़ें »

ऊपर