मतदाता पहचान पत्र नागरिकता साबित करने का पर्याप्त सबूत है : अदालत

voter card

मुंबई : मुंबई के मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट ने बांग्लादेशी घुसपैठिया होने के आरोपों से एक दंपति को बरी करते हुए कहा कि नागरिकता हासिल करने के लिए मतदाता पहचान पत्र पर्याप्त प्रमाण है। अदालत ने स्वीकार किया कि मतदाता पहचान पत्र नागरिकता प्राप्त करने के लिए किसी भी नागरिक के लिए एक प्रमाण पत्र है। मालूम हो कि उक्त दंपति को साल 2017 में अवैध रूप से भारत में प्रवेश करने और बिना दस्तावेज के मुंबई में रहने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।

अदालत ने दंपति को बरी किया

इस मामले में अदालत ने दंपति को बरी कर दिया है। साथ ही ये कहा कि जन्म प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, मूल निवास प्रमाण पत्र और पासपोर्ट को एक अन्य प्रमाण के रूप में माना जा सकता है। अदालत ने अपने आदेश में यह भी कहा है कि मतदाता पहचान पत्र को नागरिकता का पर्याप्त प्रमाण भी कहा जा सकता है।

झूठे पहचान पत्र मिलेगी कड़ी सजा

अदालत न कहा कि जनप्रतिनिधित्व कानून के फॉर्म 6 के तहत मतदाता पहचान पत्र बनाने के लिए, किसी भी व्यक्ति को प्राधिकरण के समक्ष नागरिक के रूप में घोषणा पत्र दाखिल करना होगा कि वह भारत का नागरिक है। यदि घोषणा गलत पाई जाती है, तो उस व्यक्ति को दंड मिलना चाहिए।

अदालत में साबित नहीं हुआ दस्तावेज नकली

अदालत ने कहा कि 45 वर्षीय अब्बास शेख और 40 वर्षीय राबिया खातून शेख ने भी अपनी नागरिकता साबित करने के लिए मतदाता पहचान पत्र सहित मूल दस्तावेज जमा किए थे। वहीं अभियोजन पक्ष का दावा था कि युगल द्वारा प्रस्तुत सभी दस्तावेज झूठे थे। अदालत में अभियोजन पक्ष यह साबित नहीं कर पाया कि दंपति के पास मौजूद दस्तावेज नकली थे। अदालत ने अपना फैसला सुनाते हुए कहा कि अभियोजन पक्ष यह साबित करने में विफल रहा है कि अभियुक्तों द्वारा प्रस्तुत दस्तावेज वास्तविक नहीं हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लोगों को मेरे खेल के खत्म होने के बारे में लिखने की आदत है, मुझे फर्क नहीं : सुशील

नयी दिल्ली : दिग्गज पहलवान सुशील कुमार उम्र के ऐसे पड़ाव पर है जहां ज्यादातर खिलाड़ी संन्यास की घोषणा कर देते है लेकिन ओलंपिक में आगे पढ़ें »

कोरोना से हुए नुकसान को कम करने के लिए सरकार जल्द नए राहत पैकेजों की घोषणा करेगी

नई दिल्ली : कोरोना के कारण हुए लॉक डाउन के कारण देश की अर्थव्यवस्था को काफी नुकसान हुआ है। वित्त मंत्रालय लगातार राहत पैकेज पर आगे पढ़ें »

ऊपर