शीर्ष न्यायालय निर्वाचन आयोग के अधिकारों की समीक्षा करेगा

नयी दिल्ली : अब शीर्ष न्यायालय निर्वाचन आयोग की उस ‘बेबसी’ की समीक्षा करेगा जिसमें उसने कहा है कि उसे धर्म और जाति के नाम पर चुनाव प्रचार करने तथा आचार संहिता का उल्लंघन करने वाले नेताओं और राजनीतिक दलों के खिलाफ कार्रवाई करने का कोई अधिकार नहीं है।

आयोग के अधिकारों की समीक्षा करेगा

इस संबंध में मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता और न्यायमूर्ति संजीव खन्ना की पीठ ने कहा कि वह वैसे नेताओं और राजनीतिक दलों के खिलाफ कार्रवाई के आयोग के अधिकारों की समीक्षा करेगा, जो चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करते हैं और जाति एवं धर्म के नाम पर वोट मांगते हैं।

आयोग ने खुद ही न्यायालय को बताया

न्यायालय ने आयोग को अपना एक प्रतिनिधि अदालत कक्ष में मौजूद रखने का निर्देश भी दिया। पीठ का यह निर्देश उस याचिका पर आया है जिसमें उन नेताओं और प्रवक्ताओं के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिये जाने की मांग की गयी है, जो धर्म और जाति के आधार पर वोट मांगते हैं। याचिका पर सुनवाई के दौरान आयोग ने खुद ही न्यायालय को बताया कि जब बात चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन की आती है तो उसके पास इससे निपटने के अधिकार बहुत ही सीमित हैं।

आयोग पुलिस में शिकायत दर्ज कराता है

आयोग के वकील ने न्यायालय को बताया कि जब आचार संहिता के कथित उल्लंघन की उसे कोई शिकायत मिलती है तो वह संबंधित व्यक्ति को नोटिस जारी करता है। यदि वह जवाब नहीं देता है तो आयोग उसे परामर्श जारी करता है। बार-बार उल्लंघन किये जाने की स्थिति में आयोग पुलिस में शिकायत दर्ज कराता है। वकील ने कहा, ‘‘हमारे पास इससे अधिक कोई अधिकार नहीं हैं। हम अयोग्य नहीं ठहरा सकते।’’ याचिकाकर्ता ने हालांकि कहा कि संविधान के अनुच्छेद के तहत निर्वाचन आयोग के पास व्यापक अधिकार हैं।

गौरतलब है‌ कि न्यायालय ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद कहा कि वह इस मामले में मंगलवार को सुनवाई करेगा और इस दौरान आयोग का एक प्रतिनिधि अदालत कक्ष में मौजूद रहेगा।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

चुनाव आयोग के प्रतिबंध के बाद योगी ने कहा- मेरे रग रग में राम

लखनऊ : चुनाव आयोग की तरफ से 72 घंटे का प्रतिबंध खत्म होने के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्मंत्री योगी आदित्यनाथ ने लगातार कई ट्वीट किया है। योगी ने लिखा है कि हिन्दू उनकी धार्मिक पहचान है। लोकतांत्रिक मूल्यों के [Read more...]

मोदी ने अडानी-अंबानी का काला धन सफेद करने के लिये 2000 के गुलाबी नोट चलाये : राहुल

वालोद : लोकसभा चुनाव को लेकर जहां राजनेताओं की जुबानी जंग जारी है वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपनी चुनावी जनसभाओं और रैलियों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर आरोप लगाने से नहीं चूक रहे हैं। उन्होंने शुक्रवार को कहा कि [Read more...]

मुख्य समाचार

आरबीआई ने रेपो रेट घटाई, लोन सस्ते होने की उम्मीद

मुंबईः भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने रेपो रेट में 0.25% की कटौती की है। यह 6.25% से घटकर 6% हो गई है। मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (एमपीसी) की बैठक खत्म होने के बाद गुरुवार को ब्याज दरों की घोषणा की गई। [Read more...]

कांग्रेस का पूरा घोषणापत्र हिंदी में पढ़ें

कांग्रेस ने मंगलवार को अपना घोषणापत्र जारी किया जिसमें गरीब परिवारों को 72 हजार रुपये सालाना, 22 लाख सरकारी नौकरियां, महिलाओं को आरक्षण, धारा 370 को न हटने देने और देशद्रोह की धारा हटाने सहित कई वादे किए। यहां क्लिक [Read more...]

जमात-ए-इस्लामी को कारण बताओ नोटिस जारी

मोदी ने कहा-लाएंगे किसानों की तरह व्यापारी क्रेडिट कार्ड योजना

भारत के सात खिलाड़ी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की शुरूआत से पहले काउंटी क्रिकेट खेलेंगे

चुनाव आयोग के प्रतिबंध के बाद योगी ने कहा- मेरे रग रग में राम

2021 तक शीतल पेय की प्रति व्यक्ति सालाना खपत होगी 84 बोतल: रिपोर्ट

‘ओवरटाइम को अनिवार्य करना जैक मा के घमंड की निशानी’

मोदी ने अडानी-अंबानी का काला धन सफेद करने के लिये 2000 के गुलाबी नोट चलाये : राहुल

nd-tiwari and son rohit tiwari

खुलासा : सामान्य नहीं थी एनडी तिवारी के बेटे रोहित की मौत

प्रियंका चतुर्वेदी ने कांग्रेस का छोड़ा हाथ, थामा शिवसेना का दामन

आप ने गठबंधन के लिए कांग्रेस को दिया आखिरी मौका

ऊपर