पूर्णिया में भी शेल्टर होम कांड, लड़की बोली- होटलों में भेजते थे

पूर्णिया : लड़कियों की प्रताड़ना व उनके साथ हुई यौन हिंसा के मामले से देश में शर्मसार हुई शेल्टर होम एक बार फिर चर्चा में है। मामला पूर्णिया शेल्टर होम का है। आरोप है कि वहां रहने वाली लड़कियों का यौन उत्पीड़न तो होता ही था, साथ ही उन्हें कई होटलों में भी देह व्यापार के लिए भेजा जाता था। यह खुलासा पूर्णिया शेल्टर होम से भागी एक लड़की ने किया है। जानकारी के मुताबिक पूर्णिया के सदर थानाक्षेत्र में बालिकाओं के लिए शेल्टर होम है। जहां से सोमवार की सुबह आधा दर्जन लड़कियां मौका देखकर भाग निकली। सूचना पुलिस को दी गई तो भागने वाली पांच लड़कियों को पुलिस ने बरामद कर लिया। लेकिन एक लड़की भागने में कामयाब हो गई। भागी हुई लड़की किसी तरह सबसे बचते-बचाते मीडियाकर्मियों के संपर्क में आई और उन्हें आपबीती सुनाई। पीड़िता ने शेल्टर होम के बारे में चौंकाने वाला खुलासा किया।

ऐसे शेल्‍टर होम लाई गई थी लड़की

पूर्णिया के शेल्‍टर होम से सोमवार को फरार हुई लड़की कटिहार की रहने वाली है। पीड़िता ने बताया कि कुछ दिन पहले वो घर से भाग गई थी। इस मामले में उसके परिजनों ने एक युवक के खिलाफ उसे भगा ले जाने का मामला दर्ज कराया था। तभी से पुलिस तलाश कर रही थी। बीती 16 फरवरी को वह खुद ही सहायक थाना जा पहुंची, और पुलिस को बताया कि उसके माता-पिता ने उसे अपने साथ रखने से मना कर दिया है। लिहाजा पुलिस ने उसे 19 फरवरी को पूर्णिया शेल्‍टर होम भेज दिया था। लेकिन उसे नहीं पता था कि जहां वो जा रही है, वहां उसके साथ दरिंदगी की इंतहा हो जाएगी।

होटल में कई अंकल के पास भेजा जाता था

पीड़ित लड़की ने बताया कि शेल्‍टर होम में बाल सुधार की आड़ में गंदे काम होते हैं। शेल्टर होम के कर्मी उसे मेडिकल जांच के नाम पर होटल ले जाते थे, जहां गंदा काम करने पर मजबूर किया जाता था। बताया कि ऐसी पीड़ित वह अकेली लड़की नहीं, उसके साथ कई और लड़कियों के साथ भी ऐसा होता रहा है। होटल में कई अंकल लोग आते थे, जिनके पास जाने को उन्‍हें मजबूर किया जाता था। लड़की ने बताया कि शेल्टर होम की महिला कर्मी उसे व अन्‍य लड़कियों को होटलों तक ले जातीं थीं।

चुप रहने की दी जाती धमकी

पीड़िता ने बताया कि उन लोगों को चुप रहने या अंजाम भुगतने की धमकी दी जाती थी। सप्ताह में एक बार घर वालों से स्पीकर ऑन करके फोन पर बात तो कराई जाती थी। ताकि वे अपनी बात घर वालों से नहीं कह सकें। लड़कियों को बाहर भी नहीं जाने दिया जाता था।

पहले भी सामने आ चुका ऐसा मामला

विदित हो कि इसके पहले भी पूर्णिया के एक शेल्टर हाेम से भागी सहरसा की एक नाबालिग लड़की ने भी ऐसा खुलासा किया था। बीते गुरुवार को उसने कहा था कि वहां रहने वाली लड़कियों के साथ गंदा काम हो रहा है। उसने बताया था कि पूर्णिया शेल्टर हाेम में उसके साथ दुष्‍कर्म किया जाता था। इस काम में दो अधिकारी भी शामिल थे। उसके अनुसार शेल्‍टर होम में बाहर से भी लोग पहुंचते थे, जो अन्‍य लड़कियों से भी दुष्‍कर्म करते थे।

यह है मुजफ्फरपुर शेल्‍टर होम कांड

विदित हो कि बीते दिनों बिहार के मुजफ्फरपुर स्थित शेल्‍टर होम में लड़कियों से दुष्‍कर्म व उनकी तरह-तरह की प्रताड़ना का मामला उजागर हुआ था। टाटा इंस्‍टीच्‍यूट ऑफ सोशल साइंस (टिस) की सोशल ऑडिट रिपोर्ट में राज्‍य के कुछ शेल्‍टर होम में ऐसे मामलों की जानकारी दी गई थी, जिसके बाद सरकार ने कार्रवाई की। इसके बाद मुजफ्फरपुर शेल्‍टर होम के संचालक तथा कांड के मास्‍टरमाइंड ब्रजेश ठाकुर को गिरफ्तार कर लिया गया। तत्‍कालीन समाज कल्‍याण्‍ा मंत्री मंजू वर्मा को इस्‍तीफा देना पड़ा। कांड के सिलसिले में कई बड़े लोग गिरफ्तार किए गए। फिलहाल मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट की मॉनीटरिंग में सीबीआई कर रही है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

बाबुल के विवादित गाने पर थिरके दिलीप व भाजपा कर्मी

भाजपा के महिला मोर्चा सम्मेलन की ओर से आयोजित हुई थी सभा खड़गपुर : चुनाव प्रचार के लिये भाजपा के पूर्व सांसद बाबुल सुप्रियो ने एक गाना गाया जिसे लेकर विर्तक शुरू हो गया है। मामला एफआईआर तक पहुंच [Read more...]

झाड़ग्राम के तृणमूल प्रार्थी को लेकर आदिवासियों में बढ़ रही नाराजगी

भाजपा आदिवासियों की नाराजगी को भुनाने की कर रही कोशिश झाड़ग्राम : आदिवासी जनबहुल झाड़ग्राम लोकसभा सीट पर तृणमूल कांग्रेस की ओर से पेशे से शिक्षिका बीराबाहा सोरेन को चुनावी मैदान में उतारा गया है। उनके पति रविन [Read more...]

मुख्य समाचार

बाबुल के विवादित गाने पर थिरके दिलीप व भाजपा कर्मी

भाजपा के महिला मोर्चा सम्मेलन की ओर से आयोजित हुई थी सभा खड़गपुर : चुनाव प्रचार के लिये भाजपा के पूर्व सांसद बाबुल सुप्रियो ने एक गाना गाया जिसे लेकर विर्तक शुरू हो गया है। मामला एफआईआर तक पहुंच [Read more...]

झाड़ग्राम के तृणमूल प्रार्थी को लेकर आदिवासियों में बढ़ रही नाराजगी

भाजपा आदिवासियों की नाराजगी को भुनाने की कर रही कोशिश झाड़ग्राम : आदिवासी जनबहुल झाड़ग्राम लोकसभा सीट पर तृणमूल कांग्रेस की ओर से पेशे से शिक्षिका बीराबाहा सोरेन को चुनावी मैदान में उतारा गया है। उनके पति रविन [Read more...]

ऊपर