नोबेल विजेता अभिजीत बनर्जी बोले- भारतीय अर्थव्यवस्था बहुत बुरा प्रदर्शन कर रही है

abhijit

न्यूयार्क : अर्थशास्त्र के नोबेल पुरस्कार के लिए चयनित भारतीय-अमेरिकी अभिजीत बनर्जी ने सोमवार को कहा कि सरकार द्वारा तेजी से समस्या की पहचान करने के बावजूद भारतीय अर्थव्यवस्था बहुत बुरा प्रदर्शन कर रही है। नोबेल पुरस्कार के लिए नाम की घोषणा के बाद बनर्जी ने एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा कि ‘मेरे विचार से अर्थव्यवस्था बहुत खराब कर रही है।’ भारतीय अर्थव्यवस्था की स्थिति बारे में उनका कहना है कि ‘यह बयान भविष्य में क्या होगा, उस बारे में नहीं है, बल्कि जो हो रहा है उसके बारे में है। मैं इसके बारे में एक राय रखने का हकदार हूं।’ साथ ही राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण के आंकड़ों का हवाला देते हुए उन्होंने यह भी कहा कि ‘ऐसा कई सालों में पहली बार हुआ है, तो यह एक बहुत ही बड़ी चेतावनी का संकेत है।’

बहुत बड़ी चेतावनी का संकेत है भारतीय अर्थव्यवस्था का प्रदर्शन

अभिजीत बनर्जी ने भारत के शहरी और ग्रामीण इलाकों में औसत खपत के अनुमान बताने वाले राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण के आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा कि ‘हम जो तथ्य देख रहे हैं, उसके अनुसार साल 2014-15 और साल 2017-18 के बीच आंकड़े थोड़े कम हुए हैं। ऐसा कई सालों में पहली बार हुआ है, तो यह एक बहुत ही बड़ी चेतावनी का संकेत है।’

भारतीय अर्थव्यवस्था बहुत तेजी से धीमी हो रही है

बनर्जी ने कहा कि ‘भारत में एक बहस चल रही है कि कौन सा आंकड़ा सही है और कौन सा सरकार का है, मुख्य तौर से यह मानना है कि वो सभी आंकड़े गलत हैं, जो असुविधाजनक हैं। लेकिन मुझे लगता है कि सरकार भी अब यह मानने लगी है कि कुछ समस्या है। अर्थव्यवस्था बहुत तेजी से धीमी हो रही है। कितनी तेजी से, यह हमें नहीं पता है, आंकड़ों को लेकर विवाद हैं, लेकिन मुझे लगता है कि यह तेज है।’

अर्थव्यवस्था में मांग एक बड़ी समस्या

बनर्जी ने कहा कि उन्हें ठीक-ठीक नहीं पता है कि क्या करना चाहिए। उन्होंने कहा कि उनके विचार में जब अर्थव्यवस्था ‘अनियंत्रित गिरावट’ की ओर जा रही है, तो ऐसे में आप मौद्रिक स्थिरता के बारे में इतनी चिंता नहीं करते हैं और इसकी जगह मांग के बारे में थोड़ा अधिक चिंता करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि अब अर्थव्यवस्था में मांग एक बड़ी समस्या है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने नीतीश से मुलाकात की, राजनीतिक रुख प्रकट किया

पटना: बिहार के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) पद से ऐच्छिक सेवानिवृत्ति (वीआरएस) के बाद राजनीति की ओर कदम बढ़ा रहे गुप्तेश्वर पांडेय ने शनिवार को जनता आगे पढ़ें »

कॉलेज और यूनिवर्सिटी खोलने पर फैसला कल

कोलकाता: पिछले करीब साढ़े 6 महीनों से शिक्षण संस्थान बंद हैं, दोबारा काॅलेज - और यूनिवर्सिटी कब से खुल सकते हैं, इस पर चर्चा के आगे पढ़ें »

ऊपर