दुष्कर्म में नाकाम रहने पर पड़ोसी ने युवती को लगाई आग, डॉक्टर ने कहा- बचना मुश्किल

muzffarpur

मुजफ्फरपुर : मुजफ्फरपुर जिले के अहियापुर थाना अंतर्गत नजीरपुर गांव में एक व्यक्ति ने अपने पड़ोस में रहने वाली 23 वर्षीय युवती से बलात्कार की कोशिश की और युवती ने जब उसका विरोध किया तो उसने उसे आग लगाकर उसकी हत्या करने की कोशिश की। 85 प्रतिशत जली लड़की को एक निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया है। वह कोमा में है। डॉक्टरों ने बताया कि पीड़ित के बचने की उम्मीद कम है। पुलिस ने आरोपी राजा राय को गिरफ्तार कर लिया है।

पीड़िता वारदात के वक्त घर में अकेली थी

अहियापुर थाना प्रभारी विकास राय ने सोमवार को बताया कि पीड़िता वारदात के समय अपने घर में अकेली थी और एक स्थानीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में काम करने वाली उसकी मां ड्यूटी पर थी। पीडिता की मां को इस घटना के बारे में तब पता चला जब उक्त गांव के एक निवासी ने उन्हें फोन करके इसकी जानकारी दी।

आरोपी 3 साल से छेड़खानी कर रहा था- पीड़िता की मां

इस घटना के बाद पीड़िता की मां ने बताया कि आरोपी 3 साल से बेटी के साथ छेड़खानी कर रहा था। उन्होंने कहा कि वे आरोपी के खिलाफ 5 बार अहियापुर थाने में शिकायत दर्ज कराने पहुंचे, लेकिन पुलिस ने रिपोर्ट नहीं लिखी। बीते छठ के दिन भी आरोपी ने घर में घुसकर युवती से छेड़खानी की थी। इसकी शिकायत भी पुलिस ने दर्ज नहीं की। उन्होंने बताया कि आरोपी के डर से बेटी ने कोचिंग जाना भी छोड़ दिया था।

लड़की को खुद अस्पताल लेकर गया आरोपी

वहीं, इस घटना को लेकर पीड़िता के भाई ने बताया कि आरोपी ने पूरी योजना के साथ उसकी बहन को जलाने के बाद उसे खुद एक निजी अस्पताल में ले गया। ताकि लोगों को उसपे शक न हो और उसका बचाव हो सके। पीड़िता के भाई ने कहा कि आरोपी ने उसकी बहन को ऐसे अस्‍पताल में भर्ती कराया जहां जहां बर्न केस के इलाज की व्यवस्‍था ही नहीं थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऊपर