मोदी तीन देशों की यात्रा पर हुए रवाना, फ्रांस जी-7 समिट में होंगे शामिल

narendra modi visit G-7

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन देशों की यात्रा पर विदेश रवाना हुए है। यात्रा पर रवाना होने के बाद मोदी ने ट्वीट कर अपने विदेश यात्रा की जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि 22 से 26 अगस्‍त के यात्रा के दौरान वह फ्रांस, संयुक्‍त अरब अमीरात (यूएई) और बहरीन जाएंगे। मोदी फ्रांस के राष्‍ट्रपति मैक्रॉन के निमंत्रण पर बियारेट्ज शहर में होने वाले जी-7 समिट में 24 से 26 अगस्‍त तक साझेदार के तौर पर हिस्सा लेंगे। उन्होंने कहा कि “फ्रांस में राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन और पीएम एडवर्ड फिलीप के साथ वार्ता के लिए तत्पर हैं। बता दें कि इससे पहले मोदी ने कहा कि इस यात्रा से समय-समय पर अच्छे दोस्तों की भूमिका निभाने वाले मित्रों से हमारे संबंध और मजबूत होंगे और सहयोग की नई संभावनाएं खुलेगी।
मैक्रॉन से होगी महत्वपूर्ण द्विपक्षीय मुलाकात
मोदी और मैक्रॉन के बीच गुरुवार को एक महत्वपूर्ण द्विपक्षीय मुलाकात होगी। भारत में फ्रांस के राजदूत एलेक्जेंड्रे जीगलर ने ट्वीट किया कि “राष्ट्रपति मैक्रॉन और प्रधानमंत्री मोदी के बीच द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन को लेकर शेटे डी चैंटिली पूरी तरह से तैयार है, जोकि पेरिस से करीब 60 किलोमीटर दूर है। यह फ्रांस की सांस्कृतिक विरासतों में से एक है।” बता दें कि इस यात्रा के दौरान मोदी वर्ष 1950 और 1960 के दशक में फ्रांस में दो भारतीय विमान दुर्घटनाओं के शिकार हुए लोगों के लिए भारतीय प्रवासी स्मारक की स्थापना को लेकर बातचीत करेंगे।
यूएई में रूपे कार्ड करेंगे लॉन्च
एक अन्य ट्वीट में मोदी ने लिखा कि “यूएई में अबू धाबी के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान के साथ बातचीत होगी। क्राउन प्रिंस और वो बापू की 150वीं जयंती को चिह्नित करने के लिए एक डाक टिकट जारी करेंगे। साथ ही रूपे कार्ड भी लॉन्च किया जाएगा, जो कई प्रकार से मदद करेगा।”
बहरीन के प्रधानमंत्री से मिलने के लिए हैं उत्सुक
प्रधानमंत्री ने कहा कि “बहरीन की मेरी यात्रा, अपने देश के किसी प्रधानमंत्री की पहली यात्रा होगी। मैं बहरीन के प्रधानमंत्री प्रिंस शेख खलीफा बिन सलमान अल खलीफा और बहरीन के राजा शेख हमद बिन ईसा अल खलीफा से मिलने के लिए उत्सुक हूं। वहां भारतीय प्रवासियों के साथ बातचीत होगी। खाड़ी क्षेत्र के सबसे पुराने मंदिरों में से भगवान श्रीनाथजी के मंदिर के विकास के लिए विशेष समारोह में उपस्थित होना मेरे लिए एक सम्मान की बात होगी।”
अन्य नेताओं के साथ भी करेंगे द्विपक्षीय मुलाकात
जी-7 सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री के पर्यावरण, जलवायु परिवर्तन, समुद्री सहयोग और डिजिटल परिवर्तन जैसे मुद्दों पर विचार रख सकते हैं। मोदी अन्य देशों के नेताओं के साथ द्विपक्षीय मुलाकात भी करेंगे। इसके अलावा प्रधानमंत्री पेरिस में भारतीय समुदाय को संबोधित भी करेंगे। बता दें कि भारत और फ्रांस 1998 से रणनीतिक साझेदार हैं और दोनों देशों के बीच व्यापक और बहुआयामी संबंध हैं। इसके अलावा दोनों देशों के बीच रक्षा, समुद्री सुरक्षा, अंतरिक्ष, साइबर, आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई और असैन्य परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में मजबूत सहयोग है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

आपके बेटे को कोई नुकसान नहीं पहुंचाऊंगा – बाबुल

देवाजंन की मां ने लगायी बाबुल से बेटे को माफ करने की गुहार कोलकाता : सोशल मीडिया पर उनके बेटे की पोस्ट वायरल हुई है जिसमें आगे पढ़ें »

राजीव कुमार की हो सकती है हत्या – सोमेन

कोलकाता : एक ओर जहां कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को सीबीआई दिन - रात ढूंढ रही है तो वहीं इस बीच, प्रदेश आगे पढ़ें »

ऊपर