मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर का निधन, तीन दिन के राजकीय शोक का ऐलान

gaur

भोपाल : मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री तथा भाजपा के वरिष्ठ नेता बाबूलाल गौर का 89 वर्ष की उम्र में बुधवार सुबह निधन हो गया। बताया जा रहा कि वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे, कुछ दिन पहले ही उन्हें भोपाल के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी साथ ही उनके कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था।

लगातार 10 बार रहे विधायक

गौर का जन्म 2 जून 1930 को उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ में हुआ था। वे भाजपा के अकेले ऐसे नेता रहे जिन्होंने मध्य प्रदेश विधानसभा के लगातार 10 चुनाव जीते। 2004 में उमा भारती के मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद प्रदेश की कमान उन्होंने संभाली थी। 2013 में हुए विधानसभा चुनाव के बाद भाजपा के सत्ता में आने पर उन्हें मंत्री बनाया गया।

मोदी और शाह ने ट्विट कर दी श्रद्धांजली

प्रधानमंत्री मोदी ने ‌ट्विट किया कि ‘बाबूलाल गौर जी का लम्बा राजनीतिक जीवन जनता-जनार्दन की सेवा में समर्पित था। जनसंघ के समय से ही उन्होंने पार्टी को मज़बूत और लोकप्रिय बनाने के लिए मेहनत की। मंत्री और मुख्यमंत्री के रूप में मध्यप्रदेश के विकास के लिए किए गए उनके कार्य हमेशा याद रखे जाएंगे। मंत्री और मुख्यमंत्री के रूप में मध्यप्रदेश के विकास के लिए किए गए उनके कार्य हमेशा याद रखे जाएंगे।’ वहीं गृहमंत्री अमित शाह ने ट्विट कर कहा कि गौर ने ‘गोवा मुक्ति आन्दोलन’ में भी सक्रिय भूमिका निभाई और वे मध्यप्रदेश में भाजपा को सशक्त करने और जनता के हितों के लिए अपने संघर्ष को लेकर सदैव याद किये जायेंगे।

तीन दिन के राजकीय शोक का ऐलान

बता दें कि उनका पार्थिव देह भाजपा कार्यालय में अंतिम दर्शन के लिए रखा गया है। यहां पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने उन्हें कंधा दिया। वहीं मुख्यमंत्री कमलनाथ भी श्रद्धांजलि देने के लिए गौर के आवास पर पहुंचे। बाबूलाल गौर का राजकीय सम्मान के साथ सुभाष नगर स्थित विश्राम घाट पर अंतिम संस्कार किया जाएगा। मध्य प्रदेश सरकार ने उनके निधन पर तीन दिन के राजकीय शोक का ऐलान किया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

आपके बेटे को कोई नुकसान नहीं पहुंचाऊंगा – बाबुल

देवाजंन की मां ने लगायी बाबुल से बेटे को माफ करने की गुहार कोलकाता : सोशल मीडिया पर उनके बेटे की पोस्ट वायरल हुई है जिसमें आगे पढ़ें »

राजीव कुमार की हो सकती है हत्या – सोमेन

कोलकाता : एक ओर जहां कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को सीबीआई दिन - रात ढूंढ रही है तो वहीं इस बीच, प्रदेश आगे पढ़ें »

ऊपर