इस वजह से आखिरी समय में रोकी गई मिशन चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग

Chandrayaan-2-image

श्रीहरिकोटा : भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के दूसरे मून मिशन चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग तकनीकी कारणों से रोक दी गई। चंद्रयान-2 को सोमवार सुबह 2:51 पर उड़ान भरनी थी मगर उड़ान से ठीक 56 मिनट पहले इसे रोक दिया गया। खबर है कि जीएसएलवी-एमके-3 के क्रायोजेनिक इंजन में हीलियम लीकेज हो रहा था जो उड़ान रोकने का कारण बना।
इसरो ने तकनीकी दिक्कत का हवाला ‌दिया
इसरो ने चन्द्रयान-2 के उड़ान रोकने के पीछे तकनीकी दिक्कतों की बात कही है। वहीं इसरो के सूत्रों के अनुसार उड़ान क्रायोजेनिक इंजन में फ्यूल लीकेज के कारण रोकी गई। इसरो ने बयान जारी करते हुए कहा कि तकनीकी कारणों से एहतियातन मिशन को रोका गया है और जल्दी ही नई तारीख की घोषणा की जाएगी।
वरिष्ठ वैज्ञानिक ने लीकेज को वजह बताया
एक वरिष्ठ वैज्ञानिक ने बताया कि इंजन में लिक्विड ऑक्सीजन और लिक्विड हाइड्रोजन भरने का काम चल रहा था। हमें 350 बार हीलियम भरनी थी तथा आउटपुट को 50 बार सेट करना था, लेकिन तभी हमने देखा कि हीलियम का प्रेशर तेजी से नीचे गिरने लगा। उन्होंने कहा कि हीलियम का इस तरह तेजी से नीचे गिरना लीकेज का इशारा कर रहा था। हो सकता है कि इसमें कई जगह से लीकेज हो जिसे अब दलों को देखना है।
राष्ट्रपति कोविंद भी पहुंचे थे
सोमवार की सुबह पहली बार 5000 दर्शक श्रीहरिकोटा में चन्द्रयान-2 की उड़ान को देखने पहुंचे थे। इसके अलावा राष्ट्रपति रामना‌थ को‌विंद भी वीआईपी गैलरी में मौजूद थे। लेकिन जब पता लगा कि इस मिशन को रोक दिया गया है तो निराश हो गए।
बता दें कि 978 करोड़ रुपए वाले चंद्रयान-2 के परियोजना में जीएसएलवी-एमके-3 लॉन्च वीहकल का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसमें एक थ्री-स्टेज क्रायोजेनिक तकनीक से लैस सीई-20 इंजन लगाया गया है। क्रायोजेनिक स्टेज लिक्विड हाइड्रोजन (एलएच2) को फ्यूल तथा लिक्विड ऑक्सिजन को ऑक्सीडाइजर के रूप में उपयोग करता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पत्नी ने च्युइंगम खाने से किया इनकार, पति ने दे दिया तलाक, मुकदमा दर्ज

लखनऊः जिला दीवानी अदालत में पेशी पर आये एक युवक ने वहां अपनी पत्नी को एक ऐसी वजह के कारण तलाक दे दिया जिसे लोग आगे पढ़ें »

tejasvi yadav

आरक्षण को लेकर आरएसएस एंव भाजपा की मंशा ठीक नहीं:तेजस्वी

पटना : बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने आरक्षण के मुद्दे पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत के हालिया बयान आगे पढ़ें »

ऊपर