6 दिन में दूसरी बार भारत ने किया स्वदेश निर्मित K-4 बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण

missile

नई दिल्ली : भारत ने शुक्रवार सुबह विशाखापट्टनम के तट से 3500 किलोमीटर की मारक क्षमता वाली स्वदेश निर्मित K-4 बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण किया। इस मिसाइल को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) द्वारा विकसित किया गया है। सूत्रों के अनुसार, पिछले छह दिनों में के-4 बैलेस्टिक मिसाइल के पनडुब्बी संस्करण का यह दूसरा सफल परीक्षण है। इस परीक्षण को पानी के नीचे के प्लेटफार्म से किया गया है। माना जा रहा है कि यह मिसाइल चीन की राजधानी बीजिंग से लेकर पाकिस्तान के सभी शहरों को अपनी जद में लेने की क्षमता रखती है। बता दें कि इससे पहले रविवार को इस मध्यवर्ती मिसाइल का सफल परीक्षण किया गया था।

20 मीटर गहरे पानी से दागी जा सकती है मिसाइल

इस परीक्षण की सफलता के साथ ही भारतीय सेना की पनडुब्बी से दुश्मनों के ठिकानों पर मिसाइल दागने की क्षमता और मजबूत हो गई है। यह मिसाइल परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है। 12 मीटर की लंबाई और 1.3 मीटर की गोलाई वाली यह मिसाइल 3500 किलोमीटर की दूरी तक हमला कर सकती है। इसका वजन 17 टन है और यह 2000 किलो तक के हथियार ले जाने में सक्षम है। इसे 20 मीटर गहरे पानी में लॉन्चर से भी छोड़ा जा सकता है। इसे स्वदेश में निर्मित अरिहंत क्लास की परमाणु पनडुब्बियों के बेड़े पर तैनात किया जाएगा। लेकिन इससे पहले इस मिसाइल के कई परीक्षण किए जाएंगे।

सैटेलाइट अपडेट की सुविधा से है युक्त

सूत्रों के मुताबिक, बूस्टर ग्लॉराइड फ्लाइट प्रोफाइल्सी तकनीक की मदद से के-4 मिसाइल किसी भी एंटी बैलेस्टिक मिसाइल प्रणाली को चकमा दे सकती है। इसकी नेविगेशन प्रणाली में सैटेलाइट अपडेट की भी सुविधा है जिसके जरिए यह बिल्कुल सटीकता से अपने लक्ष्य को भेद सकती है।

परमाणु पनडुब्बी आईएनएस अरिघात जल्द होगी सेना में शामिल

उल्लेखनीय है कि दुनिया में इस समय केवल 6 देश ही ऐसे हैं जो जमीन, हवा और पानी के अंदर से परमाणु मिसाइल को दागने की क्षमता रखते हैं, इनमें भारत का नाम भी शामिल है। इसके अलावा, अमेरिका, रूस, फ्रांस, ब्रिटेन और चीन के पास यह क्षमता है। फिलहाल भारत के पास आईएनएस अरिहंत के रूप में एक ही परमाणु पनडुब्बी ऐसी है जिसे स्वदेशी तौर पर विकसित किया गया है। वहीं, एक अन्य परमाणु पनडुब्बी आईएनएस अरिघात को आने वाले दिनो में सेना में शामिल किया जा सकता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सर्दी-जुकाम से लेकर पीरियड्स के दर्द में मसाला चाय का एक कप है फायदेमंद

नई दिल्ली : कुछ लोगों को दिन के कई बार चाय पीने की आदत होती है। वहीँ कुछ लोगों को मसाला चाय काफी पसंद होती आगे पढ़ें »

modis

अचानक हुनर हाट पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी, लिट्टी-चोखा खाया और कुल्हड़ चाय पी

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की ओर से आयोजित ‘हुनर हाट’ में बुधवार को अचानक पहुंचे, वहां लिट्टी-चोखा खाया एवं कुल्हड़ आगे पढ़ें »

shahin

शाहीन बाग प्रदर्शन : मध्यस्थ बोले- प्रदर्शन करना आपका हक है तो सड़कों पर चलना, दुकानें खोलना दूसरों का हक

field

प्रधानमंत्री फसलबीमा योजना में बदलाव को मंजूरी, किसानों के लिए स्वैच्छिक बनाया

फोर्ड इंडिया ने पेश किया फिगो बीएस 6, ये है कीमत

akki

अक्षय और करण ने फिल्मफेयर अवार्ड के दौरान असम पुलिस की मुस्तैदी की प्रशंसा की

vicky

विकी कौशल ने इन्हें दिया अपने करियर का श्रेय, नए लोगों के साथ काम करने की आदत

देश में पहली बार 3डी प्रिंटिंग तकनीक से कैंसर के मरीज के जबड़े की हुई सर्जरी,7 साल बाद खाया पसंद का भोजन

ayodhya

रामजन्म भूमि ट्रस्ट के 15वें सदस्य के रूप में पूर्व कैबिनेट सचिव नृपेंद्र मिश्र का नाम तय

kejri

अरविंद केजरीवाल ने गृह मंत्री अमित शाह से की मुलाकात, कई अहम मुद्दों पर हुई चर्चा

ऊपर