अत्यधिक कर वसूलना सामाजिक अन्याय : जस्टिस बोबडे

bobade

नई दिल्ली : शीर्ष न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश शरद अरविंद बोबडे ने देश की जनता पर कर का बोझ कम करने तथा राष्ट्र के चहुंमुखी विकास के लिए विशेष प्रयास किए जाने की केंद्र सरकार को सलाह दी है। न्यायमूर्ति बोबडे ने आयकर अपीलीय न्यायाधिकरण के 79वें स्थापना दिवस समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि अत्यधिक कर को सामाजिक अन्याय के तौर पर देखा जा सकता है। साथ ही उन्होंने कहा कि कर चोरी देश के नागरिकों के प्रति सामाजिक अन्याय है तो मनमाने तरीके से तथा अत्यधिक कर वसूलना सरकार की ओर से किया गया सामाजिक अन्याय है।

टैक्स के लिए विशेषज्ञों की आवश्यकता होती है

मुख्य न्यायाधीश ने आयकर संबंधी विवादों में न्यायाधिकरणों की भूमिका की सराहना करते हुए कहा कि कर विवाद के निपटारे के लिए गठित अदालतें देश के लिए संसाधन जुटाने में अहम भूमिका निभाती हैं। न्यायमूर्ति बोबडे ने कहा कि टैक्स ऐसा विषय है, जिससे जुड़े मसले निपटाने के लिए विशेषज्ञों की आवश्यकता होती है। आयकर न्यायाधिकरण, न्यायपालिका का बोझ कम करने की दिशा में सहायता कर रहे हैं।

रिक्त पदों के लिए नियुक्ति की प्रक्रिया में आई तेजी: न्यायमूर्ति भट्ट

इस अवसर पर आयकर अपीलीय न्यायाधिकरण के अध्यक्ष न्यायमूर्ति पीपी भट्ट ने कहा कि रिक्त पदों के लिए नियुक्ति की प्रक्रिया में तेजी लाई गई है। न्याय मंत्रालय नियुक्तियों की प्रक्रिया को शीघ्र ही पूरा कर लेगा। आईटीएटी में 126 पदों की संस्तुति है, लेकिन अभी 42 पद खाली हैं। कटक में शीघ्र ही नया ऑफिस खोला जाएगा। लखनऊ में नई बेंच जल्द ही खोली जाएगी, देहरादून में नए सर्किट बेंच का गठन किया गया है, जिसका उद्घाटन जल्द ही किया जाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राजस्थान रॉयल्स के सामने केकेआर की कड़ी परीक्षा

दुबई : कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) को अगर आईपीएल में अपना अभियान पटरी पर बनाये रखना है तो उसे बेहतरीन फार्म में चल रहे राजस्थान रॉयल्स आगे पढ़ें »

सनराइजर्स ने रोका दिल्ली का विजय रथ, राशिद-भुवनेश्वर का चला जादू

अबुधाबी : आईपीएल के 13वें सीजन का 11वां मुकाबला दिल्ली कैपिटल्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच अबुधाबी में खेला गया। इस मुकाबले में दिल्ली के आगे पढ़ें »

ऊपर