ईयू सांसदों ने दिया भारत का साथ, कहा- कश्मीर में आतंकवाद के पीछे है पाकिस्तान का हाथ

eeu

नई दिल्ली : जम्मू-कश्मीर के दौरे पर गए यूरोपीय यूनियन (ईयू) के सांसदों ने बुधवार को पत्रकार सम्मेलन कर कहा कि वह भारत के साथ है, आतंकवाद कश्मीर की सबसे बड़ी समस्या है। एक सांसद ने कहा कि हम यहां राजनीति करने नहीं आए हैं। आतंकवाद से पीड़ित रहे कश्मीर की हालत देखने आए हैं। वहीं एक सांसद ने असदुद्दीन ओवैसी के बयान की ओर इशारा करते हुए कहा कि कुछ लोग हमें नाजीवादी बता रहे हैं, लेकिन अगर हम ऐसे होते तो जनता हमें नहीं चुनती। उन्होंने यह भी कहा कि हम हिटलर समर्थक नहीं हैं। इससे पहले एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था कि ईयू के सांसदों को यूनियन ने नहीं भेजा है, ये लोग नाजीवादी हैं।

कश्मीर में आतंकवाद की फंडिंग करता है पाकिस्तान : ईयू सांसद

एक सांसद ने कहा, कश्मीर को लेकर कई प्रकार के दुष्प्रचार किया जा रहा है, जो सही नहीं है। उन्होंने कहा कि वह यहां राजनीति करने के मकसद से नहीं आए हैं। बल्कि यहां के तथ्यों को जानने आए हैं। साथ ही उन्होंने बताया कि हम कश्मीर में सामान्य जीवन को पटरी पर लाने के उद्देश्य से आए हैं। ईयू सांसदों ने कहा कि कश्मीर की सबसे बड़ी समस्या आतंकवाद है, जिसके पीछे पाकिस्तान का हाथ है। क्योंकी पाकिस्तान ही आतंकियों को फंडिंग करता है। साथ ही उन्होंने यह कहा कि उन्हें कश्मीर के लोगों कहना है कि वह भारतीय हैं और अपने विकास के लिए वह सरकार की हर संभव मदद करना चाहते हैं। कश्मीर के नागरिक अच्छे अस्पताल और नौकरी चाहते हैं।

‘कश्मीर में भ्रष्टाचार, केंद्र से भेजा पैसा लोगों को नहीं मिलता’

दूसरे सांसद ने मारे गए मजदूरों के लिए शोक जताते हुए कहा, कल आतंकियों ने जिन मजदूरों को मारा, उनके परिवार के प्रति संवेदना जताता हूं। उन्होंने कहा कि यूरोप और भारत का रिश्ता काफी मजबूत हैं। भारत आतंकवाद के खिलाफ लड़ रहा है। हम यहां यही स्थिति जानने आए हैं। हमने लोगों से बात की। कश्मीर के लोगों ने कहा कि केंद्र सरकार से बहुत बड़ा फंड आता है, लेकिन वह नागरिकों तक नहीं पहुंच पाता। यहां बहुत भ्रष्टाचार है। सांसद ने कहा कि हम यहां कश्मीर को लेकर जो सोच बन रही है, उसे जानने आए हैं। आतंकवाद सिर्फ भारत की नहीं, बल्कि हमारी और विश्वभर की समस्या है। हम भारत के साथ हैं। भारत यूरोप के कई देशों से बड़ा है। हम चाहते हैं कि भारत आतंकवाद के खिलाफ कड़े कदम उठाए, इसमें हम उसके साथ बराबरी से खड़े हैं।

कांग्रेस के नेता भी फ्लाइट पकड़कर जा सकते हैं कश्मीर : भाजपा

वहीं भाजपा के प्रवक्ता शहनवाज हुसैन ने कांग्रेस द्वारा कश्मीर जाने वाले बयान का पलटवार करते हुए कहा, ‘जब अनुच्छेद-370 हटा था, तब शांति-व्यवस्था के लिए कुछ जरूरी कदम उठाए गए थे। हालात सामान्य होते ही सब रोक हटा ली गई। अब हमारे पास छिपाने के लिए कुछ भी नहीं, दिखाने के लिए सब कुछ है। उन्होंने कहा कि कश्मीर जाना है तो कांग्रेस के नेता भी फ्लाइट पकड़कर जा सकते हैं। गुलमर्ग जाएं, अनंतनाग जाएं, सैर करें, घूमें-टहलें। उन्हें किसने रोका है? देशी-विदेशी सभी पर्यटकों के लिए कश्मीर को खोल दिया गया है। ऐसे में विदेशी सांसदों के दौरे को लेकर सवाल उठाने का कोई मतलब नहीं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोलकाता रिवर क्रूज से आज से जलविहार कर सकेंगे लोग

कोलकाताः हुगली नदी में जलविहार का आनंद, वह भी क्रूज में। सोचकर ही लोगों का मन व मिजाज एक अलग व अनोखी दुनिया में विचरण आगे पढ़ें »

Gang rape gangrape expose women going to temple

हाथरस गैंगरेप: ‘अलीगढ़ अस्पताल की रिपोर्ट में बलात्कार की पुष्टि नहीं’

हाथरस: चार उच्च जाति के पुरुषों द्वारा मारपीट और कथित तौर पर गैंगरेप की शिकार हुई हाथरस दलित महिला की अलीगढ़ अस्पताल की मेडिकल रिपोर्ट आगे पढ़ें »

ऊपर