केंद्र का कश्मीर पर उठाया कदम आतंकियों के लिए बड़ी कार्रवाई :गडकरी

नागपुर : केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा‌ कि कश्मीर पर उठाया केंद्र का कदम आतंकवादियों के लिए एक बड़ी कार्रवाई है। गडकरी ने बुधवार काे कहा कि जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जे हटाए जाने के केंद्र के फैसले के मद्देनजर इस साल स्वतंत्रता दिवस ‘‘और अधिक उत्साह’’ के साथ मनाया जाएगा। भारत सरकार के इस फैसले ने कश्मीर घाटी में आतंकवादियों और ‘‘पाकिस्तान की घुसपैठ की गतिविधियों’’ को करारा जवाब दिया है। हर किसी को ‘अखंड भारत’ का सपना पूरा करने का संकल्प लेना चाहिए। इस ऐतहासिक पृष्ठभूमि में स्वतंत्रता दिवस और अधिक उत्साह के साथ मनाया जाएगा।’’

असल में भारतीयों के सपने हुए पूरे

एक स्थानीय एनजीओ मातृभूमि प्रतिष्ठान ने ‘अखंड भारत संकल्प दिवस’ के मौके पर ‘वंदे मातरम्’ गान कार्यक्रम आयोजित किया था। इस मौके पर छात्रों की सभा को संबोधित करते हुए सांसद गडकरी ने कहा कि ‘‘अनुच्छेद 370 हटाकर हमने कश्मीर में पाकिस्तान की घुसपैठ की गतिविधियों को करारा जवाब दिया है। आज असल मायने में सभी भारतीयों के सपने पूरे हो गए।’’ साथ ही कहा कि ‘‘कश्मीर में शांति है और एक तरह से भारत की ओर से आतंकवादियों को कड़ा जवाब मिला है।

सांसद सन्नी देओल भी की प्रशंसा

गडकरी ने इस कार्यक्रम में मौजूद अभिनेता से नेता बने सनी देओल की भी प्रशंसा की है। गुरदासपुर से भाजपा सांसद बने नेता सनी देओल ने भी अपने संबोधन में कहा कि उनका मानना है कि ‘अखंड भारत’ एक दिन निश्चित तौर पर सच्चाई बनेगा। स्वतंत्रता दिवस पर हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि हमें आजादी कैसे मिली। हमें महात्मा गांधी, भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद सुभाष चंद्र बोस, लोकमान्य तिलक और देश के लिए जान की कुर्बानी देने वाले अन्य स्वतंत्रता सेनानियों को याद रखना चाहिए।’’ एक स्थानीय एनजीओ मातृभूमि प्रतिष्ठान ने ‘अखंड भारत संकल्प दिवस’ के मौके पर यहां ‘वंदे मातरम्’ गान कार्यक्रम आयोजित किया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

us

चीन की बेल्ट रोड परियोजना पर भारत की चिंताओं को साझा करता है अमेरिका : एलिस वेल्स

वाशिंगटन : अमेरिका ने चीन की महात्वाकांक्षी ‘वन बेल्ट वन रोड’ (ओबीओआर) परियोजना पर भारत के विरोध का समर्थन किया और कहा कि वह इस आगे पढ़ें »

Ramjan Ali

बेलूर में संस्कृत पढ़ाएंगे मुस्लिम प्रोफेसर

कोलकाता : कोलकाता के बाहरी क्षेत्र में स्थित एक कॉलेज के संस्कृत विभाग में एक मुस्लिम व्यक्ति को सहायक प्राध्यापक के तौर पर नियुक्त किया आगे पढ़ें »

ऊपर