फिर गुजरात की तरफ मुड़ा ‘वायु’, कच्छ में दे सकता है दस्तक

गांधीनगरः गुुजरात के ऊपर से चक्रवात ‘वायु’ का जो खतरा टला था वो फिर वापस आता दिखाई दे रहा है। शुक्रवार को केंद्रीय पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के सचिव एम राजीवन ने जानकारी दी कि 17 और 18 जून को वायु के कच्छ और सौराष्ट्र के तटों से टकराने की संभावना है। लेकिन इसकी तीव्रता पहले के मुकाबले काफी कम बताई जा रही है। हालांकि मौसम विभाग ने कहा कि अभी इस बात की पुष्टि करना जल्दबाजी होगी। बताते चलें कि इससे पहले गुरुवार को ‘वायु’ गुजरात के वेरावल तट से टकराने वाला था, बाद में इसकी दिशा बदल गई थी।

चक्रवात पर पैनी नजर

गुजरात सरकार ने जनता को बताया कि सरकार की चक्रवात वायु पर अभी भी पैना नजर बनीं हुई है। अगर चक्रवात की वापसी होती भी है तो राज्य हर तरह के संकट से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है। राज्य के मुख्य सचिव जेएन सिंह ने कहा कि हम अभी भी हाई अलर्ट पर हैं। सभी बचाव दलों को स्टैंडबाय मोड पर रखा गया है जो किसी भी समय मुसीबत का डटकर सामना करने कि लिए सजग हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने शुक्रवार को घोषणा की थी कि राज्य के निचले तटीय इलाकों में रह रहे करीब पौने तीन लाख लोगों को आर्थिक सहायता दी जाएगी। उन्होंने बताया कि हर वयस्क को 60 रुपए और बच्चे को 45 रुपए की दर से करीबन साढ़े पांच करोड़ रुपए तक की नगद मदद मिलेगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Jagdip Dhankhar

धनखड़ के खिलाफ विधान सभा से संसद तक मोर्चाबंदी

कोलकाता : ऐसा पहली बार हुआ है जब विधानसभा में सत्ता पक्ष ने धरना दिया। कारण थे राज्यपाल जगदीप धनखड़, जिन पर विधेयकों को मंजूरी आगे पढ़ें »

मेरे कंधे पर बंदूक रखकर चलाने की को​शिश न करें – धनखड़

कोलकाता : राज्यपाल जगदीप धनखड़ और तृणमूल सरकार के बीच संबंधों में मंगलवार को और खटास आ गयी जब उन्होंने ‘कछुए की गति से काम आगे पढ़ें »

ऊपर