ड्रोन गिराए जाने से गुस्से में ट्रंप, ईरान पर लगाएंगे कई प्रतिबंध

वॉशिंगटन : ईरान के साथ बढ़ते तनाव को लेकर अमेरिका अब उसके ऊपर नए प्रतिबंध लगाने की तैयारी में है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि वह सोमवार से ईरान पर कई प्रतिबंध लगाएंगे। मालूम हो कि गत दिनों ईरान ने एक अमरिकी ड्रोन को मार गिराया था जिसके बाद से दोनों देशों के बीच युद्ध जैसे हालात बन गए थे। हालांकि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अंतिम समय में ईरान पर हमला करने के आदेश को वापस ले लिया था।

अमेरिका ने कई बार साइबर हमले किए

ट्रंप ने एक ट्वीट के माध्यम से कहा है कि वे ईरान को परमाणु हथियार बनाने नहीं दे सकते। उन्होंने यह भी कहा है कि ईरान पिछली ओबामा सरकार की खतरनाक योजना के कार बहुत की कम सालों में परमाणु हथियार बनाने के रास्ते पर आ गया है। ट्रंप ने कहा कि अब बिना जांच के यह मंजूर नहीं होगा। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि “हम सोमवार से ईरान पर बहुत सारे प्रतिबंध लगाने जा रहे हैं। हम उस दिन का इंतजार कर रहे हैं, जब ईरान से प्रतिबंध हट जाएंगे और वह फिर से एक समृद्ध राष्ट्र बन जाएगा।” वहीं एक रिपोर्ट बताती है कि ईरान के मिसाइल कंट्रोल सिस्टम एवं जासूसी करने वाले नेटवर्क पर अमेरिका ने कई बार साइबर हमले किए हैं।

ईरान ने कहा हमला अमेरिका को भारी पड़ेगा

ईरान पर सैन्य कार्रवाई किए जाने के सवाल के जवाब में ट्रम्प ने कहा कि “जब तक समस्या हल नहीं हो जाती तब तक इस पर विचार होता रहेगा।” वहीं, ईरान भी पीछे हटने के मूड में नहीं दिख रहा है। ईरानी सेना ने स्पष्ट चेतावनी दी है कि अगर हमारे ऊपर किसी भी तरह का हमला किया गया तो यह अमेरिका को भारी पड़ेगा।

परमाणु समझौते से अमेरिका ने खुद को अलग किया

बता दें कि वर्ष 2015 में ईरान ने अपने ऊपर लगे आर्थिक प्रतिबंधों को हटाने के लिए अमेरिका, चीन, रूस, जर्मनी, फ्रांस और ब्रिटेन के साथ एक समझौते पर दस्तख्त किया था। साथ ही उसने अपने परमाणु कार्यक्रम को सीमित करने पर रजामंदी जताई थी। वहीं पिछले साल मई में ट्रंप ने ईरान के साथ तनाव बढ़े होने का हवाला देते हुए अमेरिका के समझौते से अलग होने की घोषणा की थी।

गौरतलब है कि गत 13 जून को ओमान की खाड़ी में दो तेल टैंकरों हुए हमले का सीधा आरोप ईरान पर लगाया था। साथ ही उसने इस बात से भी इंकार किया कि ट्रंप के आदेश पर हफ्ते भर से ज्यादा समय तक ईरान को साईबर हमले का निशाना बनाया गया था। इस संबंध में अमेरिकी सुरक्षा विभाग का कहना है कि अमेेेरिका ने ईरान पर किसी तरह का साइबर हमला नहीं किया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टाला ब्रिज पर डायवर्सन के कारण 100 मिनी बसें चलाएगा परिवहन विभाग

वाहनों के डायवर्सन से यात्रियों को नहीं होगी समस्याः शुभेन्दु अधिकारी कोलकाताः टाला ब्रिज पर बस व भारी वाहनों की पाबंदी के बाद बड़े पैमाने पर आगे पढ़ें »

बीजीबी की कार्रवाई बेवजह, हमने नहीं चलाई एक भी गोलीः बीएसएफ

मुर्शिदाबादः बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के जवानों ने बीएसएफ के जवान को लक्ष्य कर जानबूझकर चलायी थी गोली। यह मानना है सीमा पर तैनात बीएसएफ आगे पढ़ें »

ऊपर