झारखंड : सीएए समर्थकों के जुलूस पर पथराव और बमबाजी, भाजपा ने साधा सरकार पर निशाना

jharkhand

रांची : भाजपा ने लोहरदगा में सीएए समर्थक जुलूस पर हुए पथराव और हिंसक घटनाओं की कड़ी निंदा करते हुए इसे पूरे तरीके से झारखंड सरकार और प्रशासन की विफलता बताया है। विपक्षी दल ने आरोप लगाया है कि राज्य सरकार तुष्टीकरण की राजनीति से पूरे प्रदेश को जलाने पर उतारू है। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने गुरूवार को कहा कि लोहरदगा में शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे लोगों पर असामाजिक तत्वों ने पेट्रोल बम फेंके और पत्थर चलाए और तलवार, डंडे से हमला किया। प्रशासन पूरे घटना पर मूकदर्शक बना रहा और बाद में जब हंगामा हुआ तो उसने कर्फ्यू लगा दिया।

यह एक बड़ी साजिश का हिस्सा

प्रतुल शाहदेव ने कहा की शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे जुलूस पर जिस तरीके से हमला हुआ यह एक बड़ी साजिश का हिस्सा प्रतीत होता है। नई सरकार के गठन के बाद ही पूरे प्रदेश में अराजकता चरम पर है। उन्होंने कहा की राज्य सरकार तुष्टीकरण के कारण पूरे प्रदेश को आग में झोंकने का कार्य कर रही है। प्रतुल ने कहा की भाजपा यह मांग करती है की हमलवारों की तुरंत शिनाख्त करके उनकी अविलंब गिरफ्तारी की जाए और पूरे घटना पर मूकदर्शक रहे अधिकारियों पर भी कार्रवाई भी हो।

क्या है पूरा मामला

दरअसल, झारखंड के लोहरदगा जिले में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के समर्थन में गुरुवार को जुलूस निकाला गया। इस दौरान विशाल जुलूस पर उपद्रवीयों ने पथराव कर दिया जिसके बाद हिंसा भड़क गई। पथराव के विरोध में लोगों ने गाड़ियों में तोड़फोड़ व आगजनी की जिसके बाद पुलिस को स्थिति नियंत्रित करने के लिये हवाई फायरिंग करनी पड़ी। पथराव में कई लोग बुरी तरह घायल हो गए हैं। पुलिस के कई जवान भी इस घटना में घायल बताए जा रहे हैं। पुलिस ने एहतियातन शहर में कर्फ्यू लागू कर दिया है और पूरे मामले पर कड़ी नजर बनाए हुए है

शेयर करें

मुख्य समाचार

क्वारंटाइन में होते हुए, कोरोना को पीढ़ दिखा अस्पताल में एक साथ पढ़ रहे है नमाज

हैदराबाद : दुनियाभर में महामारी का रूप धारण कर चुके कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए देेशभर में 21 दिन के लिए लागू किये आगे पढ़ें »

कोरोना वायरस की वजह से वैश्विक अर्थव्यवस्था में हो सकती है एक प्रतिशत की कमी : संरा

संयुक्त राष्ट्र : कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से दुनियाभर में फैली महामारी के कारण संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि वैश्विक अर्थव्यवस्था 2020 में आगे पढ़ें »

ऊपर